बिटकॉइन की कीमतों को कौन नियंत्रित करता है ?

Bitcoin Price Today: बिटकॉइन 21 हजार डॉलर के रिकॉर्ड निचले स्तर पर गिरा, महंगाई के चिंताजनक आंकड़ों का असर

By: ABP Live | Updated at : 14 Jun 2022 01:56 PM (IST)

बिटकॉइन (फाइल फोटो) ( Image Source : Getty )

Bitcoin Price Today: टॉप क्रिप्टोकरेंसी बिटकॉइन (बीटीसी) आज लगभग 21,000 डॉलर प्रति बिटकॉइन तक गिर गई है. लगभग पांच साल पहले बिटकॉइन इसी लेवल पर थी. ग्लोबल क्रिप्टो बाजार में कमजोर मैक्रो इकॉनॉमिक वातावरण और क्रिप्टो स्पेस के भीतर से सिस्टम के जोखिम के कारण क्रैश होने के कारण यह लगभग 20,000 रुपये से 21,000 रुपये प्रति बीटीसी पर मंडरा रही है.

मार्च में 49,000 डॉलर से घटकर 21,000 डॉलर तक आया बिटकॉइन
बिटकॉइन लगभग 12 सीधे हफ्ते लगातार गिरा. मार्च में लगभग 49,000 डॉलर मूल्य से गिरकर लगभग 21,000 डॉलर पर पहुंच गया है. क्रिप्टो लेंडिंग प्लेटफॉर्म सेल्सियस ने एलान किया है कि बिटकॉइन ने 'अत्यधिक बाजार स्थितियों' का हवाला देते हुए सभी आउटफ्लो को रोक दिया था. फर्म ने ग्राहकों को लिखा, 'बाजार की चरम स्थितियों के चलते, आज हम एलान कर रहे हैं कि सेल्सियस सभी व्रिड्रॉल्स, स्वैप और खातों के बीच ट्रांसफर्स को रोक रहा है.'

Bitcoin: 2030 तक 1 करोड़ पर पहुंच जाएंगे बिटकॉइन: ZebPay के राहुल पगड़ीपति

Bitcoin: 2030 तक 1 करोड़ पर पहुंच जाएंगे बिटकॉइन: ZebPay के राहुल पगड़ीपति

सुप्रीम कोर्ट के बैन हटाने के बाद मार्च 2020 से बिटकॉइन (Bitcoin) की कीमतों बिटकॉइन कैश 2023 ट्रेड कैसे करें में 300% का इजाफा दर्ज हुआ है . ZebPay के सीईओ राहुल पगड़ीपति ने क्रिप्टोकरेंसी के लेन – देन , लीगल स्टेटस और उससे जुड़े बिटकॉइन कैश 2023 ट्रेड कैसे करें खतरों पर मनी 9 से बात की .

भारत में बिटकॉइन का लीगल स्टेटस क्या है ?

क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) भारत में कभी भी अवैध नहीं रही है , और आरबीआई ने खुद कहा है कि क्रिप्टो करेंसी कानूनी है ( वास्तव में , RBI ने क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) में ट्रेडिंग के प्रति आगाह किया है ). हम इसको लेकर रेग्युलेरिटी क्लेरिटी ( नियम – कानून ) समझने के लिए तैयार हैं . लेकिन कई मौजूदा कानून क्रिप्टो पर लागू होते हैं , भले ही उनमें क्रिप्टो शब्द शामिल न हो . हमारी लीगल टीम इस बात का विश्वास दिलाती है कि हम ईमानदारी से कानून का पालन करेंगे . हमारा मानना है कि जब तक क्रिप्टो फर्म को रेग्युलेट नहीं किया जाता , ग्राहकों और जनता की सुरक्षा के लिए उन्हें सेल्फ रेग्युलेट करना चाहिए . और एक ऐसा मॉडल पेश करना चाहिए जिसे भविष्य की नीति के तौर पर देखा जाए . भारतीय निवेशकों को जानना चाहिए कि क्रिप्टो भारत में कानूनन है लेकिन उन्हें एक विश्वसनीय एक्सचेंज के माध्यम से निवेश करना चाहिए जो उचित KYC और मनी – लॉन्ड्रिंग विरोधी नीतियों का पालन करता है .

अब बैंक खाते से नहीं होगा बिटकॉइन कैश, कांग्रेस ने बिटकॉइन को बताया काले धन को सफेद करने का घोटाला

now bitcoin will not cash from bank accounts, reserve bank of india

देश में बिटकॉइन में निवेश करने वाले अब इस जैसी सभी क्रिप्टोकरेंसी में ट्रेडिंग नहीं कर पाएंगे। इसका मतलब यह हुआ कि अब लोग बिटकॉइन या अन्य क्रिप्टोकरेंसी को अपने बैंक खाते में कैश नहीं करा पाएंगे। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) ने सभी बैंकों को 5 जुलाई तक क्रिप्टोकरेंसी बिटकॉइन कैश 2023 ट्रेड कैसे करें में डील करने वालों से संबंध तोड़ने को कहा था। यह सर्कुलर अप्रैल में जारी किया गया था। अब इसकी समय सीमा खत्म हो गई है।

अभी तक कोई भी व्यक्ति एक्सचेंज पर बिटकॉइन या बिटकॉइन कैश 2023 ट्रेड कैसे करें अन्य क्रिप्टोकरेंसी की खरीद कर सकता था। इसके लिए एक्सचेंज से जुड़े बैंक खाते से पैसा ट्रांसफर करना पड़ता था और उसी के आधार पर बिटकॉइन की खरीद होती थी। अब ऐसा करना संभव नहीं होगा। अब कुछ एक्सचेंज पीयर टू पीयर बन जाएंगे जहां आपको किसी अन्य खरीदार से जोड़ा जाएगा और उसके साथ आप बिटकॉइन खरीद या बेच सकेंगे। पीयर टू पीयर ट्रेडिंग में आप केवल बिटकॉइन को किसी दूसरे क्रिप्टोकरेंसी के बदले में ही खरीद-बेच सकेंगे।

काले धन को बदलने के लिए भाजपा ने किया बिटकॉइन घोटाला : कांग्रेस

काले धन को बिटकॉइन कैश 2023 ट्रेड कैसे करें बदलने के लिए भाजपा ने किया बिटकॉइन घोटाला : कांग्रेस
कांग्रेस ने गुजरात में भाजपा नेताओं पर 5000 से 88000 करोड़ रुपये तक के बिटकॉइन घोटाले का आरोप लगाया है। पार्टी प्रवक्ता शक्ति सिंह गोहिल ने कहा कि भाजपा नेताओं ने दलालों के जरिए काले धन को नेपाल के जरिए विदेशों में भेजकर बिटकॉइन में निवेश किया। इसके अलावा जिन अन्य लोगों ने बिटकॉइन में निवेश किया है, उन्हें गुजरात सीबीआई और पुलिस धमकाकर उनसे बिटकॉइन की उगाही कर रही है।

उन्होंने इस मामले की सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में न्यायिक जांच की मांग बिटकॉइन कैश 2023 ट्रेड कैसे करें की। उन्होंने कहा कि यह मामला राज्य के गृह राज्य मंत्री प्रदीप जडेजा को की गई शिकायत के बाद सामने आया। घोटाले का मास्टर माइंड भाजपा का पूर्व विधायक नलिन कोटाडिया है। उसकी गिरफ्तारी से कई बड़े भाजपा नेताओं के नाम भी सामने आ सकते हैं।

क्रिप्टो करेंसी की कीमतों में गिरावट: खरीदें, बेचें या होल्ड करें?

क्रिप्टो करेंसी की कीमतों में गिरावट: खरीदें, बेचें या होल्ड करें?

कुछ नकारात्मक बिटकॉइन कैश 2023 ट्रेड कैसे करें खबरों से क्रिप्टो बाजार हाल में टूटा है. बिटकॉइन, इथेरियम, डॉजकॉइन समेत सारी डिजिटल करेंसी अपने शिखर स्तरों से बड़ी छूट के साथ बिक्री के लिए उपलब्ध हैं. फिर भी आशंकाओं के कारण निवेशक क्रिप्टो मार्केट में अपनी रणनीति को लेकर संशय में हैं. आइए देखते हैं क्रिप्टो बाजार में स्ट्रेटेजी को लेकर एक्सपर्ट्स की क्या है सलाह-

क्रिप्टो कीमतों में आई है भारी गिरावट:

पूरे क्रिप्टोकरेंसी मार्केट का वैल्यूएशन बीते कुछ दिनों में काफी नीचे आया है. बिटकॉइन ने 14 अप्रैल बिटकॉइन कैश 2023 ट्रेड कैसे करें को अपना 64,850 डॉलर का उच्चतम स्तर हासिल किया था. कॉइनमार्केटकैप वेबसाइट के अनुसार रविवार सुबह बिटकॉइन इस स्तर से करीब 42% नीचे रहकर 37,500 डॉलर के करीब व्यापार कर रहा है. बीते एक हफ्ते में ही इस क्रिप्टोकरेंसी के भाव में करीब 22% की बड़ी कमी आई है.

इथेरियम केवल आखिरी 7 दिनों में लगभग बिटकॉइन कैश 2023 ट्रेड कैसे करें 40% टूटकर 2300 डॉलर के करीब ट्रेड कर रहा है. 12 बिटकॉइन कैश 2023 ट्रेड कैसे करें मई को इथेरियम ने अपना 4,362 का शिखर स्तर बनाया था.

बाइनेंस कॉइन अब क्रिप्टो बाजार में मार्केट कैप के अनुसार तीसरे की जगह पांचवें स्थान पर आ गया है. 10 मई को 690 डॉलर का रिकॉर्ड स्तर छूने के बाद इस क्रिप्टोकरेंसी का भाव अब बिटकॉइन कैश 2023 ट्रेड कैसे करें 57% नीचे रहकर 300 डॉलर के करीब है. एक हफ्ते में बाइनेंस कॉइन 48% कमजोर हुआ है.

13 साल का हुआ बिटकॉइन, छह बिटकॉइन कैश 2023 ट्रेड कैसे करें पैसे से तय किया 48.2 लाख का सफर

13 साल का हुआ बिटकॉइन, छह पैसे से तय किया 48.2 लाख का सफर

बिटकॉइन के फाउंडर की पहचान अभी भी रहस्य है। (Source: Twitter/@BitcoinMagazine)

क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) को नए जमाने की हकीकत बनाने वाले बिटकॉइन (Bitcoin) के अब 13 साल पूरे हो चुके हैं। इस 13 साल में बिटकॉइन ने ऐसा सफर तय किया है, जिसके ऊपर यकीन करना मुश्किल हो जाता है। महज छह पैसे के भाव से शुरू हुआ यह सफर अभी 48.2 लाख के शिखर पर जा पहुंचा है।

13 साल पहले प्रकाशित हुआ था पहला Bitcoin White Paper

आज से 13 साल पहले 31 अक्टूबर 2008 को बिटकॉइन की औपचारिक शुरुआत हुई थी। उस रोज पहली बार बिटकॉइन का व्हाइट पेपर पब्लिश (Bitcoin White Paper) हुआ था। इसे सातोशी नाकामोतो (Satoshi Nakamoto) के नकली नाम से ऑनलाइन पब्लिश किया गया था। ‘बिटकॉइन: अ पीअर-टू-पीअर इलेक्ट्रॉनिक कैश सिस्टम’ शीर्षक से प्रकाशित व्हाइट पेपर में बताया गया था कि कैसे बिना किसी सरकारी के नियंत्रण वाली भविष्य की ऑनलाइन पेमेंट प्रणाली से लोगों को फायदा हो सकता है।

रेटिंग: 4.96
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 275