हारवर्ड टी. एच. चैन स्कूल आॅफ़ पबलिक हेल्थ के पोषण वैज्ञानिकों, और हारवर्ड हेल्थ पबलिकेशंज़ के संपादकों द्वारा बनायी गयी स्वस्थ भोजन की थाली संतुलित, स्वस्थ भोजन तैयार करने के लिए एक गाइड है – चाहे वह थाली में परोसा जाऐ, या खाने के डब्बे में डाला जाए। इसकी प्रतिलिपि फ्रिज पर रखें, ताकी यह आपको स्वस्थ, संतुलित भोजन बनाने के लिए हर दिन याद दिलाए!

सर्वश्रेष्ठ दलालों की सूची

अस्वीकरण :
इस वेबसाइट पर दी की गई जानकारी, प्रोडक्ट और सर्विसेज़ बिना किसी वारंटी या प्रतिनिधित्व, व्यक्त या निहित के "जैसा है" और "जैसा उपलब्ध है" के आधार पर दी जाती हैं। Khatabook ब्लॉग विशुद्ध रूप से वित्तीय प्रोडक्ट और सर्विसेज़ की शैक्षिक चर्चा के लिए हैं। Khatabook यह गारंटी नहीं देता है कि सर्विस आपकी आवश्यकताओं को पूरा करेगी, या यह निर्बाध, समय पर और सुरक्षित होगी, और यह कि त्रुटियां, यदि कोई हों, को ठीक किया जाएगा। यहां उपलब्ध सभी सामग्री और जानकारी केवल सामान्य सूचना उद्देश्यों के लिए है। कोई भी कानूनी, वित्तीय या व्यावसायिक निर्णय लेने के लिए जानकारी पर भरोसा करने से पहले किसी पेशेवर से सलाह लें। इस जानकारी का सख्ती से अपने जोखिम पर उपयोग करें। वेबसाइट पर मौजूद किसी भी गलत, गलत या अधूरी जानकारी के सर्वश्रेष्ठ दलालों की सूची लिए Khatabook जिम्मेदार नहीं होगा। यह सुनिश्चित करने के हमारे प्रयासों के बावजूद कि इस वेबसाइट पर निहित जानकारी अद्यतन और मान्य है, Khatabook किसी भी उद्देश्य के लिए वेबसाइट की जानकारी, प्रोडक्ट, सर्विसेज़ या संबंधित ग्राफिक्स की पूर्णता, विश्वसनीयता, सटीकता, संगतता या उपलब्धता की गारंटी नहीं देता है।यदि वेबसाइट अस्थायी रूप से अनुपलब्ध है, तो Khatabook किसी भी तकनीकी समस्या या इसके नियंत्रण से परे क्षति और इस वेबसाइट तक आपके उपयोग या पहुंच के परिणामस्वरूप होने वाली किसी भी हानि या क्षति के लिए उत्तरदायी नहीं होगा।

We'd love to hear from you

We are always available to address the needs of our users.
+91-9606800800

BREAKING NEWS | RBI ने विदेशी मुद्रा ऐप्स की अलर्ट सूची जारी की

RBI ने विदेशी मुद्रा ऐप्स की अलर्ट सूची जारी की: इस सूची में अनधिकृत ऐप्स शामिल हैं जिनमें बहुत प्रसिद्ध OctaFX भी शामिल है जो कि IPL टीम दिल्ली कैपिटल्स का आधिकारिक ट्रेडिंग प्रायोजक है| भारतीय रिजर्व बैंक (RBI): भारत में विदेशी मुद्रा बाजार को नियंत्रित करने वाले ने अनधिकृत इलेक्ट्रॉनिक ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म पर विदेशी मुद्रा लेनदेन में शामिल विदेशी मुद्रा दलालों की एक अलर्ट सूची जारी की है।

भारतीय रिज़र्व बैंक ने देखा कि इतने सारे ब्रोकर प्लेटफ़ॉर्म उपयोगकर्ताओं को उच्च रिटर्न जैसे आकर्षक ऑफ़र के साथ आकर्षित करते हैं। आगे रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया इन प्लेटफॉर्म्स के यूजर्स को एक धमकी भरी खबर देता है। आरबीआई ने कहा कि अब से इन प्रतिबंधित प्लेटफॉर्म के यूजर्स पर मुकदमा चलाया जा सकता है।

BREAKING NEWS | RBI ने विदेशी मुद्रा ऐप्स की अलर्ट सूची जारी की

इस सूची में 34 अवैध ऐप्स, OctaFX सहित फॉरेक्स प्लेटफॉर्म शामिल हैं, जो इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) टीम दिल्ली कैपिटल्स का आधिकारिक प्रायोजक है।

RBI issues alert list: Declares these 34 forex trading Platforms Unauthorized.

👉 Here's a full list of unauthorized forex trading apps and websites

इसके अलावा आरबीआई ने कहा कि अगर कोई ऐप या ब्रोकर प्लेटफॉर्म इस सूची में शामिल नहीं है तो उसे भारत के शीर्ष बैंक द्वारा अधिकृत नहीं माना जाना चाहिए।

भारतीय रिजर्व बैंक के नियमों के अनुसार, निवासी व्यक्ति को अनुमत उद्देश्यों और अधिकृत फर्म के साथ विदेशी मुद्रा लेनदेन करना चाहिए, यह फेमा (विदेशी मुद्रा विनिमय प्रबंधन अधिनियम, 1999) के नियमों और विनियमों के अनुसार किया जाना चाहिए।

अगर कोई विदेशी मुद्रा लेनदेन करना चाहता है; ये इलेक्ट्रॉनिक रूप से किया जा सकता है। ऐसा करते समय, भारत के एनएसई (नेशनल स्टॉक एक्सचेंज), बीएसई (बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज), और एमएसई (मेट्रोपॉलिटन स्टॉक एक्सचेंज) जैसे आरबीआई द्वारा मान्यता प्राप्त स्टॉक एक्सचेंजों के साथ लेनदेन किया जाना चाहिए।

आरबीआई ने विदेशी मुद्रा व्यापार पर प्रतिबंध लगाया? भारत में विदेशी मुद्रा व्यापार प्रतिबंध?

सवाल उठता है कि भारत में फॉरेक्स ट्रेडिंग के प्लेटफॉर्म पर प्रतिबंध क्यों?

इसकी शुरुआत इसी साल फरवरी से हुई है, जब आरबीआई ने इतने लोगों को ठगते देखा था। उस समय आरबीआई ने ऐसे प्लेटफॉर्मों को चेतावनी दी थी जिनमें अनधिकृत तरीके से विदेशी मुद्रा व्यापार शामिल है।

आरबीआई पहले ही ऐसी संस्थाओं को यह कहकर चेतावनी दे चुका है कि उन्हें उनके खिलाफ कुछ कड़ी दंडात्मक कार्रवाई करने की आवश्यकता है जो विदेशी मुद्रा विनिमय प्रबंधन अधिनियम (फेमा) या इलेक्ट्रॉनिक ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म (ईटीपी) के तहत विनियमित नहीं हैं।

उस दौरान भारतीय रिजर्व बैंक ने अनधिकृत संस्थाओं की सूची जारी नहीं की लेकिन आरबीआई ने उनसे स्पष्ट रूप से स्पष्टीकरण मांगा।

इसके कारण आरबीआई ने 34 अनधिकृत विदेशी मुद्रा दलालों की सूची जारी की।

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने इन 34 संस्थाओं को चेतावनी दी और दावा किया कि वे न तो FEMA अधिनियम, 1999 के तहत विदेशी मुद्रा में सौदा करने के लिए अधिकृत हैं और न ही इलेक्ट्रॉनिक ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म के रूप में।

अगर आपने भारत में विदेशी मुद्रा व्यापार प्रतिबंध के बारे में खबर सुनी है, तो यहां आएं और पूरी सच्चाई जानें कि आरबीआई ने इन 34 संस्थाओं पर क्यों अलर्ट किया। आरबीआई ने समय-समय पर इन संस्थाओं का अवलोकन किया और लोगों और उनके पैसे की सुरक्षा के लिए आरबीआई ने ऐसा किया।

ऐसा करके आरबीआई दूसरे प्लेटफॉर्म्स या वेबऐप्स को कड़ा संदेश दे रहा है जो किसी को भी ठगने की फ़िराक में रहते है |

प्रो. नरसी राम बिश्नोई दुनिया के सर्वश्रेष्ठ दो प्रतिशत वैज्ञानिकों की सूची में शामिल

अमरीका के स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय ने दुनिया भर के शीर्ष दो फीसदी वैज्ञानिकों की सूची जारी की है जिसमें गुरु जम्भेश्वर विज्ञान एवं अभियांत्रिकी विश्वविद्यालय के डीन ऑफ रिसर्च प्रोफेसर नरसी राम.

प्रो. नरसी राम बिश्नोई दुनिया के सर्वश्रेष्ठ दो प्रतिशत वैज्ञानिकों की सूची में शामिल

अमरीका के स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय ने दुनिया भर के शीर्ष दो फीसदी वैज्ञानिकों की सूची जारी की है जिसमें गुरु जम्भेश्वर विज्ञान एवं अभियांत्रिकी विश्वविद्यालय के डीन ऑफ रिसर्च प्रोफेसर नरसी राम बिश्नोई 1991 से लेकर 2020 तक के शोध प्रकाशन के आधार पर इस सूची में नाम शामिल करवाने में कामयाब रहे हैं।
स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय ने 2019 तक के शोध पत्रों के प्रभाव के आधार पर वैज्ञानिकों को ग्रेड दिए हैं। विश्व रैंकिंग में से सिर्फ दो प्रतिशत वैज्ञानिकों के नाम इस सूची में है। स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय ने दुनिया भर के वैज्ञानिकों के डाटा का विश्लेषण करके रिसर्च क्षेत्र के मुताबिक वैज्ञानिकों के नाम सार्वजानिक किए हैं। साथ ही विश्व रैंकिंग भी जारी की है। इस रैंकिंग में अक्टूबर 2019 तक के शोघ पत्रों को शामिल किया गया है।
गुरु जम्भेश्वर विज्ञानं एवं अभियांत्रिकी विश्वविद्यालय के प्रोफेसर नारसी राम बिश्नोई को उनकी रिसर्च पब्लिकेशन के आधार पर यह सम्मान मिला है। उन्होंने 152 शोध पत्र दुनिया के प्रसिद्ध जर्नल जो कि एल्सेवेर, साइंस डायरेक्ट, एमराल्ड, टेलर एंड फ्रांसिस, तथा ्प्रिरंगर जैसे उच्च कोटि के प्रकाशकों से प्रकाशित हुए हैं। इनके चलते उन्हें राष्ट्रीय पयार्वरण विज्ञान अकादमी, दिल्ली द्वारा 2015 में उच्चतम वैज्ञानिक के सम्मान से नवाज़ा तथा 2019 में इंडियन अकादमी ऑफ एनवायरनमेंट साइंस, हरिद्वार की ओर से प्रोफेसर एसए सालगराय अवार्ड से सम्मानित किया। तीस से अधिक सालों के करियर में पयार्वरण से जुड़े उम्दा शोध कायोर्ं सर्वश्रेष्ठ दलालों की सूची के लिए सम्मानित किया गया है।
इनके शोध कार्य के प्रभाव के कारण इनका गूगल एच इंडेक्स 37, गूगल आई10 इंडेक्स 73 है तथा इनकी रिसर्च को 4743 वैज्ञानिकों ने अपनी रिसर्च में इस्तेमाल किया है। प्रोफेसर बिश्नोई ने पांच रिसर्च प्रोजेक्ट, जिनमें की कई प्रसिद्ध फंडिंग एजेंसियों (यूजीसी, हरियाणा साइंस तथा विज्ञान विभाग, एआईसीटीई) ने पैसे उपलब्ध करवाए हैं। प्रो० बिश्नोई ने पयार्वरण संबंधी समस्याओं वायु प्रदूषण को रोकने के लिए पराली व गेहूं के भूसे से इथेनॉल बनाने की रिसर्च की है। इथेनॉल को पेट्रोल में मिलकर प्रदूषण काम करने के रास्ते दिखाए हैं।
इन शोधों का सही इस्तेमाल हो तो पयार्वरण प्रदूषण से सम्बंधित समस्याओं का आसानी से समाधान हो सकता सर्वश्रेष्ठ दलालों की सूची है। उन्होंने समुद्र, झील व तालाब में पाई जाने वाली काई से बायो डीजल बनाने से सम्बंधित रिसर्च भी की है। इसमें उन्हें सर्वश्रेष्ठ दलालों की सूची सफलता भी मिली है। विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर टंकेश्वर कुमार ने प्रोफेसर नरसी राम को अपने शोध द्वारा विश्वविद्यालय का नाम रोशन करने पर बधाई दी हैं। उनकी ये उपलब्धियां आने वाले विद्यार्थियों तथा शोधार्थियों के लिए प्रेरणा का स्रोत साबित होंगी।

स्वस्थ भोजन की थाली (Hindi)

Healthy Eating Plate Translation Hindi

हारवर्ड टी. एच. चैन स्कूल आॅफ़ पबलिक हेल्थ के पोषण वैज्ञानिकों, और हारवर्ड हेल्थ पबलिकेशंज़ के संपादकों द्वारा बनायी गयी स्वस्थ भोजन की थाली संतुलित, स्वस्थ भोजन तैयार करने के लिए एक गाइड है – चाहे वह थाली में परोसा जाऐ, या खाने के डब्बे में डाला जाए। इसकी प्रतिलिपि फ्रिज पर रखें, ताकी यह आपको स्वस्थ, संतुलित भोजन बनाने के लिए हर दिन याद दिलाए!

  • फल और सबज़ियों को अपने भोजन का सबसे बड़ा हिस्सा बनायें – आधी थाली मात्राः

कोशिश करें कि अनेक रंगों और कई प्रकार के फल और सब्ज़ियां खायें। और याद रखें कि स्वस्थ भोजन की थाली में आलू को सब्ज़ि नहीं माना जाता है, क्योंकि आलू को खाने से रक्त शर्करा, या ‘ब्लड ग्लूकोज़’ पर नकारात्मक असर होता है।

  • ‘होल ग्रेन्ज़’, या साबुत अनाजों को ज़्यादातर खायें – एक चैथाई थाली मात्राः

साबुत और पूर्ण अनाजों – पूर्ण गेहूॅं, जौ, बाजरा, जुवार, जै, ‘ब्राउन राइस’ या असंसाधित चावल, और इनसे बनाये गए खाद्य पदार्थ, जैसे कि पूर्ण गेहूॅं से बनाई गई रोटी – का मैदे से बनाई गई रोटी, ‘वाइट राइस’, और अन्य संसाधित अनाजों सर्वश्रेष्ठ दलालों की सूची से रक्त शर्करा और इंसुलिन पर कम असर होता है।

  • प्रोटीन की शक्ति – एक चैथाई थाली मात्राः

मछली, मुर्ग, दाल, और अखरोट स्वस्थ और बहुमुखी प्रोटीन के स्रोत हैं – इनको सालाद में डाला जा सकता है, और यह सब्ज़ियों के साथ अच्छा जाते है। लाल मांस को कम खाना चाहिए, और संसाधित मांस, जैसे कि ‘बेकन’ और ‘साॅसेज’ से दूर रहना चाहिए।

  • स्वस्थ संयंत्र तेल या ‘वेजिटेबल आॅयल’ – मध्यम मात्रा मेंः

स्वस्थ वेजिटेबल आॅयल, जैसे जैतून या ‘ओलिव’, कनोला, सोयाबीन, सनफ़लावर, मूंगफली, सरसों, इत्यादी के तेलों को चुनें, और ‘पार्शली हाइड्रोजनेटिड’ तेलों से दूर रहें, क्योंकि इनमें अस्वस्थ ‘ट्रांस फैट’ होते हैं। याद रखें, कि केवल कम या शून्य फैट होने से खाद्य पदार्थ ‘‘स्वस्थ’’ नहीं हो जाते।

मीठे पायों से दूर रहें, दूध और दूध से बने अन्य खाद्य पदार्थों के दिन में केवल एक या सर्वश्रेष्ठ दलालों की सूची दो सर्विगंज़ खायें, और दिन में ज़्यादा से ज़्यादा एक छोटा गिलास फल का रस पियें।

स्वस्थ भोजन की थाली के प्लेसमैट पर वह लाल रंग की भागती हुइ आक्रिति आपको याद दिलाने के लिए है, कि सक्रिय रहना भी वज़न संतुलन के लिए आवश्यक है।

स्वस्थ भोजन की थाली का मुख्य सन्देश ‘‘डायटेरी क्वालेटी’’, या आहार की गुणवत्ता के बारे में है।

  • कार्बोहाइड्रेट की मात्रा पर ध्यान देने से ज़्यादा यह सोचना ज़रूरी है कि हम अपने आहार में किस प्रकार के कार्बोहाइड्रेट खाते हैं, क्योंकि कार्बोहाइड्रेट के कुछ स्रोत – जैसे सबज़ियाॅं (आलू के अलावा), फल, साबुत अनाज, और दाल – अन्य स्रोतों से ज़्यादा स्वस्थ हैं।
  • स्वस्थ भोजन की थाली लोगों को सर्वश्रेष्ठ दलालों की सूची मीठे पायों से दूर रहने के लिए भी बताती है, जो उष, या ‘‘कैलोरीज़’’ से भरे हैं – और आमतौर पर इनमें पोषण कम होता है।
  • स्वस्थ भोजन की थाली लोगों को स्वस्थ ‘‘वेजिटेबल आॅयल’’ खाने को प्रोतसाहित करती है, और इसमें स्वस्थ स्रोतों से मिले गए ‘‘फ़ैट्स’’ के उपभोग पर कोई उपरी सीमा नहीं है।


हम निम्नलिखित नियमों और शर्तों के अनुसार स्वस्थ भोजन की थाली की छवि के उपयोग की अनुमति देतें हैंः

  • निम्न क्रेडिट लाइन शामिल होनी चाहिएः ‘‘प्रतिलिप्याधिकार © 2011 हारवर्ड विश्वविद्यालय। स्वस्थ भोजन की थाली के बारे में अधिक जानकारी के लिये कृप्या इन वेबसाइटों पर जाएॅंः पोषण स्रोत, हारवर्ड टी. एच. चैन स्कूल आॅफ़ पबलिक हेल्थ, http://www.thenutritionsource.org और हारवर्ड हेल्थ पबलिकेशन्ज़, health.harvard.edu।’’
  • आप स्वस्थ भोजन की थाली का उपयोग गैर वाणिज्यिक तरह से करेंगें।
  • आप स्वस्थ भोजन की थाली का उपयोग सभी लागू कानूनों के अनुसार करेंगें।
  • आप किसी भी तरह से छवि या पाठ को बदल नहीं सकते हैें।
  • हारवर्ड यह अनुमति अपने संपूर्ण विवेकाधिकार पर किसी भी समय रद्द कर सकता है। यदि यह अनुमति वापस ली जाती है, आपको अधिक से अधिक पांच व्यवसायक दिनों के अंदर इस छवि को किसी भी वेबसाइट या सार्वजनिक स्थान से निकालना होगा।
  • हारवर्ड कोई भी संकेत सख्ती से मना करता है – स्पष्ट या अव्यक्त – जिस्से दूसरों को यह सुझाव आए, या जो दूसरों को यह विश्वास दिलाए कि हारवर्ड, हारवर्ड टी. एच. चैन स्कूल आॅफ़ पबलिक हेल्थ के पोषण विभाग, या पोषण स्रोत की वेबसाइट ने किसी सर्वश्रेष्ठ दलालों की सूची सर्वश्रेष्ठ दलालों की सूची भी माल, सेवाओं, वयक्तिओं, या संगठनों का समर्थन किया है। इस कारण, इस छवि के लिए उूपर दी गई विशिष्ट क्रेडिट लाइन की प्रतिलिपि प्रस्तुत करने के अलावा, आप ‘‘हारवर्ड‘‘, ‘‘हारवर्ड टी. एच. चैन स्कूल आॅफ़ पबलिक हेल्थ के पोषण विभाग‘‘, या ‘‘पोषण स्रोत‘‘ नामों, या कोई भी हारवर्ड के स्वामित्व वाले ट्रेडमार्कों का स्वस्थ भोजन की थाली के संबंध में, बिना पूर्व लिखित अनुमोदन के उपयोग नहीं कर सकते।
  • आप स्वस्थ भोजन की थाली का किसी भी तरह से उपयोग नहीं कर सकते, जिस्से हारवर्ड की प्रतिष्ठा को हानी पहुंचें।
  • हारवर्ड स्वस्थ भोजन की थाली से जुड़ी हर प्रकार के वारन्टियों (स्पष्ट, अव्यक्त, या अन्यथा) को अस्वीकार करता है। इनमें शामिल है, बिना सीमा के, कोई भी व्यापारिकता की अव्यक्त वारन्टियाॅं, किसी विशेष उद्देश्य के लिए उपयुक्त्ता, और गैर उल्लंघन। आप हारवर्ड विश्वविद्यालय, और इसके संचालक मंडल के सदस्यों, संकाय सदस्यों, अधिकारियों, छात्रों, कर्मचारियों, और दलालों को सभी दावों, नुक़सानों, हानियों, उत्तरदायित्व, लागत, और खर्चों से क्षतिपूर्ति करने के लिए व हानिरहित मान्ने के लिए सहमत हैं।

Terms of Use

The contents of this website are for educational purposes and are not intended to offer personal medical advice. You should seek the advice of your physician or other qualified health provider with any questions you may सर्वश्रेष्ठ दलालों की सूची have regarding a medical condition. Never disregard professional medical advice or delay in seeking it because of something you have read on this सर्वश्रेष्ठ दलालों की सूची website. The Nutrition Source does not recommend or endorse any products.

A monthly update filled with nutrition news and tips from Harvard experts—all designed to help you eat healthier. Sign up here.

Explore the downloadable guide with tips and strategies for healthy eating and healthy living.

रेटिंग: 4.25
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 234