डिजिटल मार्केटिंग क्या होती है ? What is Digital Marketing ? DIgital Marketing 2023 – Best Detail

कोई भी ऐसी मार्केटिंग जो इलेक्ट्रॉनिक उपकरण जैसे मोबाइल , कंप्यूटर , टैबलेट , इन्टरनेट आदि का उपयोग करती है और मार्केटिंग के विशेषज्ञों द्वारा किसी भी प्रचार करने में संदेश भेजने में या आपकी ग्राहक अनुभव की सहायता से इसके प्रभाव को मापने के लिए काम में ली जा सकती है। व्यवहार में, डिजिटल मार्केटिंग आमतौर पर ऐसे मार्केटिंग अभियानों को संदर्भित करता है जो कंप्यूटर, फोन, टैबलेट या अन्य डिवाइस पर दिखाई देते हैं। यह ऑनलाइन वीडियो, डिस्प्ले विज्ञापन, सर्च इंजन मार्केटिंग, पेड सोशल विज्ञापन और सोशल मीडिया पोस्ट सहित कई रूप ले सकता है।

डिजिटल मार्केटिंग की तुलना अक्सर “पारंपरिक मार्केटिंग” से की जाती है जैसे पत्रिका विज्ञापन, होर्डिंग और डायरेक्ट मेल। लेकीन, टेलीविजन को हमेशा पारंपरिक मार्केटिंग के साथ जोड़ा जा रहा है।

आपको यह जानकर हैरानी होगी कि 3 चौथाई से अधिक अमेरिकी जनता दैनिक आधार पर ऑनलाइन रहते हैं? इतना ही नहीं, बल्कि 43% अमेरिकी दिन में एक से अधिक बार ऑनलाइन आते हैं और 26% अमेरिकी तो “लगभग लगातार” ऑनलाइन होते हैं।

ये आंकड़े मोबाइल इंटरनेट यूजर्स के बीच और भी ज्यादा हैं। 89% अमेरिकी कम से कम प्रतिदिन ऑनलाइन होते हैं, और 31% लगभग लगातार ऑनलाइन होते हैं। एक डिजिटल मार्केटर के रूप में, एक ऑनलाइन विज्ञापन के साथ डिजिटल मार्केटिंग का लाभ उठाना बहुत महत्वपूर्ण है, इसके लिए एक ब्रांड का निर्माण करके, ग्राहकों को एक शानदार अनुभव देना हे। जो एक डिजिटल रणनीति के साथ और अधिक संभावित ग्राहक लाता है । तथा बिक्री वृद्धि करता है ।

आपकी बनाई हुई डिजिटल मार्केटिंग रणनीति आपको विभिन्न डिजिटल माध्यमों का फायदा उठाने में मदद करती है – जैसे कि सोशल मीडिया से लाभ , पे-पर-क्लिक से लाभ , सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन करके और ईमेल मार्केटिंग से प्राप्त लाभ – मौजूदा ग्राहकों और आपके उत्पादों या सेवाओं में रुचि रखने वाले व्यक्तियों से जुड़ने के लिए। नतीजतन, आप एक ब्रांड बना सकते हैं, एक महान ग्राहक अनुभव प्रदान कर सकते हैं,आप अपने संभावित ग्राहकों को आकर्षित करके ला सकते हैं, और भी आप बहुत कुछ कर सकते हैं।

डिजिटल मार्केटिंग क्या है?

डिजिटल मार्केटिंग किसे कहते हे , आसान शब्दों में बताया जाए तो ऑनलाइन मार्केटिंग करने को ही डिजिटल मार्केटिंग कहते है , डिजीटल मार्केटिंग इंटरनेट और डिजिटल उपकरण के अन्य रूपों का प्रयोग करके संभावित ग्राहकों को आकर्षित करने के लिए ब्रांडों का प्रचार प्रसार है। इसमें न केवल ईमेल मार्केटिंग या सोशल मीडिया मार्केटिंग या वेब-आधारित विज्ञापन या seo शामिल हैं, बल्कि डिजिटल मार्केटिंग में मार्केटिंग माध्यम के तौर पर टेक्स्ट मैसेज और मल्टीमीडिया मैसेज भी सम्मिलित हैं।

अगर कहा जाए तो, अगर किसी मार्केटिंग योजना में डिजिटल उपकरण सम्मिलित है, तो वह एक तरीके से डिजिटल मार्केटिंग कही जायेगी ।

इनबाउंड मार्केटिंग बनाम डिजिटल मार्केटिंग :-

लोग अक्सर डिजिटल मार्केटिंग और इनबाउंड मार्केटिंग में अंतर नही जान पाते है और बहुत ही आसानी से भ्रमित ईमेल मार्केटिंग करने बेहतरीन फायदे क्या है हो जाते हैं । डिजिटल मार्केटिंग में इनबाउंड मार्केटिंग जैसे कई सारे टूल्स का प्रयोग होता है-जैसे ईमेल और ऑनलाइन सामग्री।
इनबॉन्ड और डिजिटल दोनों ही खरीदार के अनुभव के माध्यम से संभावनाओं का ध्यान आकर्षित करने और उन्हें ग्राहकों में बदलने के लिए होती हैं। लेकिन दोनो दृष्टिकोण , उपकरण और लक्ष्य के बीच अलग-अलग दृष्टिकोण रखते हैं।

डिजिटल मार्केटिंग इस बात पर विचार करती है कि कैसे व्यक्तिगत उपकरण या डिजिटल चैनल संभावनाओं को परिवर्तित कर सकते हैं। एक ब्रांड की डिजिटल मार्केटिंग रणनीति कई प्लेटफार्मों का उपयोग कर सकती है या अपने सभी प्रयासों को 1 प्लेटफॉर्म पर ईमेल मार्केटिंग करने बेहतरीन फायदे क्या है केंद्रित कर सकती है। उदाहरण के लिए, एक कंपनी अन्य डिजिटल मार्केटिंग रास्तों की अनदेखी करते हुए मुख्य रूप से सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म और ईमेल मार्केटिंग अभियानों के लिए सामग्री बना सकती है।

अगर इनबाउंड मार्केटिंग की बात की जाए तो यह एक संपूर्ण अवधारणा है। यह पहले लक्ष्य को निश्चित करता है , फिर उस लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए उपलब्ध टूल को खोजता है कि कौन सा tool प्रभावी रूप से लागू होगा और लक्षित ग्राहकों तक पहुंचा देगा , और फिर बिक्री फ़नल के किस चरण में होना चाहिए। एक उदाहरण के रूप में, मान लें कि आप अधिक संभावनाएं और लीड उत्पन्न करने के लिए वेबसाइट ट्रैफ़िक को बढ़ावा देना चाहते हैं। अपनी सामग्री मार्केटिंग रणनीति विकसित करते समय आप खोज इंजन अनुकूलन पर ध्यान केंद्रित कर सकते हैं, जिसके परिणामस्वरूप कोई ब्लॉग या लैंडिंग पृष्ठ पर अधिक अनुकूलित सामग्री प्राप्त होती है।

डिजिटल मार्केटिंग हो या इनबाउंड मार्केटिंग इन दोनो के बारे में स्मरण रखने वाली सबसे महत्वपूर्ण चीज यह है कि , अगर आप एक मार्केटिंग पेशेवर हो तो आपको इन दोनो में से किसी एक को चयन करने की ज़रूरत नहीं है , आप दोनो में से किसी को या दोनो को एक साथ काम के ले सकते है । वास्तव में, वे एक साथ सबसे अच्छा काम करते हैं। इनबाउंड मार्केटिंग डिजिटल मार्केटिंग प्रयासों को प्रभावी डिजिटल मार्केटिंग के लिए संरचना और उद्देश्य प्रदान करता है, यह और इसके अलावा यह सुनिश्चित करेगा कि प्रत्येक डिजिटल मार्केटिंग माध्यम एक लक्ष्य की ओर काम कर रहा है |

डिजिटल मार्केटिंग क्यों जरूरी है ?

वैसे देखा जाए तो किसी भी प्रकार की मार्केटिंग आपके व्यवसाय को बढ़ाने में सहायता कर सकती है। हालाँकि, डिजिटल मार्केटिंग बहुत ही आसान हैं, इसके कारण आज बढ़ती हुई इकोनॉमी में डिजिटल मार्केटिंग तेजी से फेल रही हे। वास्तव में, अकेले अप्रैल 2022 में वैश्विक स्तर पर 5 बिलियन इंटरनेट उपयोगकर्ता थे।

सोशल मीडिया प्लेटफार्म से लेकर टेक्स्ट मैसेज तक, अपने टारगेट ऑडियंस के साथ बातचीत करने के लिए डिजिटल मार्केटिंग का प्रयोग करने के कई विकल्प हैं। इसके अलावा , डिजिटल मार्केटिंग में हमेशा न्यूनतम लागत होती है और वो भी अग्रिम लागत , जिससे यह छोटे व्यवसायों के लिए बहुत फायदेमंद है क्योंकि ये एक लागत अनुकूलित मार्केटिंग तकनीक बन जाती है।

TAG :- डिजिटल मार्केटिंग , डिजिटल मार्केटिंग क्या होती है , डिजिटल मार्केटिंग क्या है इन हिंदी , डिजिटल मार्केटिंग का महत्व , डिजिटल मार्केटिंग के लाभ , डिजिटल मार्केटिंग में करियर , डिजिटल मार्केटिंग क्या होती है , डिजिटल मार्केटिंग क्यों जरूरी है , डिजिटल मार्केटिंग क्या है , DIGITAL MARKETING , डिजिटल मार्केटिंग क्या होती है ? डिजिटल मार्केटिंग क्या है इन हिंदी ? डिजिटल मार्केटिंग का महत्व , WHAT IS DIGITAL MARKETING

Best Career Option: 12वीं के बाद डिजिटल मार्केटिंग का करें कोर्स, गजब का है स्कोप, कर सकते हैं मोटी कमाई.

Best Career Option: आज के समय में इंटरनेट लोगों की कमाई का साधन भी बन चुका है. इंटरनेट से होने वाली इस कमाई को ही डिजिटल मार्केटिंग कहा जाता है. ऑनलाइन अपनी किसी भी चीज या सेवा को लोगों को तक पहुंचाना ही डिजिटल मार्केटिंग कहलाता है. इसमें एक उपभोक्ता और दूसरा आपूर्तिकर्ता शामिल होता है.

Published: August 2, 2022 8:52 AM IST

Best Career Option Best Diploma Courses these five one years diploma courses give you best job in private sector

Career Tips, Digital Marketing Courses, Digital Marketing Jobs: वर्तमान का दौर इंटरनेट का दौर है. इस समय इंसान अपनी हर छोटी बड़ी चीज के लिए कहीं न कहीं गूगल पर ही निर्भर है. इंटरनेट के जरिए शॉपिंग, दवा, गाड़ी, खाने की बुकिंग इत्यादि इंटरनेट की जरिए ही की जा रही है. आज के समय में इंटरनेट लोगों की कमाई का साधन भी बन चुका है. इंटरनेट से होने वाली इस कमाई को ही डिजिटल मार्केटिंग कहा जाता है. ऑनलाइन अपनी किसी भी चीज या सेवा को लोगों को तक पहुंचाना ही डिजिटल मार्केटिंग कहलाता है. इसमें एक उपभोक्ता और दूसरा आपूर्तिकर्ता शामिल होता है.

Also Read:

डिजिटल मार्केटिंग केवल इंटरनेट तक अब सीमित नहीं रह गया है बल्कि छोटे से लेकर बड़े पैमाने पर यह की जाने लगी है. इसका जरिए केवल इंटरनेट गहै. डिजिटल मार्केटिंग की पढ़ाई भी अब कई कॉलेजों और विश्वविद्यालयों में शुरू हो चुकी है. इसके जरिए आप भी 12वीं के बाद डिजिटल मार्केटिंग में करियर बनाकर अच्छे पैसे कमा सकते हैं.

डिजिटल मार्केटिंग में करियर कैसे बनाएं?

डिजिटल मार्केटिंग में करियर बनाने के लिए आपको अपनी ईमेल मार्केटिंग करने बेहतरीन फायदे क्या है योग्यता पर काम करना होगा. कंटेंट से संबंधित काम या जिन्हें लिखना पसंद है वे इस कोर्स में दाखिला ले सकते हैं. इसी तरह ईमेल मार्केटिंग करने बेहतरीन फायदे क्या है ईमेल मार्केटिंग करने बेहतरीन फायदे क्या है एसईओ और ईमेल मार्केटिंह के बेसिक कोर्स भी ऑनलाइन किए जाते हैं. इसमें काम और अनुभव के हिसाब से आपकी सैलरी (Digital Marketing Salary) बढ़ती है.

इन क्षेत्रों में कर सकते हैं काम

– ईमेल मार्केटिंग
– टेलीविजन मार्केटिंग
– कंटेंट मार्केटिंग
– टेलिफोन मार्केटिंग
– सर्च इंजन मार्केटिंग
– एफिलिएट मार्केटिंग
– सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन (SEO)
– सोशल मीडिया मार्केटिंग
– रेडियो मार्केटिंग

डिजिटल मार्केटिंग के हैं कई फायदे

– डिजिटल मार्केटिंग के जरिए आप निश्चित प्रोडक्ट को उसके टारगेटेड ऑडियंस तक पहुंचा पाएंगे.
– डिजिटल मार्केटिंग के जरिए आप अपने प्रोडक्ट या सेवा को कहीं भी कभी भी दिखा या पहुंचा सकते हैं.
– कम इन्वेस्टमेंट में होती है ज्यादा कमाई.

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. India.Com पर विस्तार से पढ़ें एजुकेशन और करियर की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

Digital Marketing कोर्स क्या है?, डिजिटल मार्केटिंग कैसे सीखे , फीस, योग्यता, रोजगार

यदि आप भी डिजिटल मार्केटिंग सिखाना चाहते है, और जानना चाहते है की डिजिटल मार्केटिंग क्या है, डिजिटल मार्केटिंग कैसे करे, डिजिटल मार्केटिंग कोर्स के लिए योग्यता, डिजिटल मार्केटिंग के फायदे, डिजिटल मार्केटिंग कोर्स के बाद जॉब और सैलरी कितनी होती है इन सभी टॉपिक पर विस्तार से बात करेंगे।

भारत में जिओ के आने के बाद इन्टरनेट यूजर काफी बड़े है, जिससे सभी ऑफलाइन प्रोडक्ट ऑनलाइन हो गए है सभी बिजनेस ऑफलाइन से ऑनलाइन की ओर सिफ्ट हो रहे है, जिसमे डिजिटल मार्केटिंग का महत्वपूर्ण योगदान है।

Digital Marketing क्या हैं?

अपनी प्रोडक्ट या सर्विस को डिजिटल साधनों से मार्केटिंग करना ही डिजिटल मार्केटिंग कहलाता है डिजिटल मार्केटिंग के हेल्प से आप अपने Target audience तक पहुच कर अपने सर्विस और प्रोडक्ट के सेल को बढ़ा कर सकते है।

डिजिटल मार्केटिंग अन्य मार्केटिंग तरीको से काफी सस्ता और इफेक्टिव है, जैसे की पहले TV, Newspaper, Magazines, Radio, Paplets, Poster और Banner के द्वारा मार्केटिंग किया था जो काफी महंगे होते थे।

Digital Marketing सिलेबस

  • Introduction
  • Marketing Techniques and Strategy
  • Instagram - (Advance, Free, Paid)
  • Facebook – (Advance, Free, Paid)
  • Youtube – (Basic)
  • Google Ads – (Advance)
  • Google My Business
  • Blogger
  • Google
  • Photo Editing
  • Video Editing
  • Analytics
  • Ad- Campaign

Digital Marketing के लिए योग्यता

डिजिटल मार्केटिंग कोर्स के लिए योग्यता की बात करे तो इसमे कुछ खास योग्यता की जरुरत नही होती है, इस कोर्स को 10 – 12 वी पास कोई भी स्टूडेंट कर सकता है जिन्हें इन्टरनेट और मार्केटिंग में रूचि हो।

Digital Marketing कोर्स के फायदे

  • डिजिटल मार्केटिंग के हेल्प से आप अपने Target Audience तक पहुच सकते है।
  • ऑनलाइन मार्केटिंग से आप अपने प्रोडक्ट और सर्विस के सेल्स को बढ़ा सकते है।
  • इस कोर्स को करने के बाद आप किसी कंपनी में मार्केटिंग का जॉब कर सकते है।
  • डिजिटल मार्केटिंग कोर्स करने के बाद आप फ्रीलांसिंग का काम कर सकते है।
  • आप अपना खुद का ऑनलाइन स्टार्टअप ओपन कर सकते है।

Digital Marketing कोर्स के बाद जॉब प्रोफाइल

  • सोशल मीडिया मार्केटिंग एक्सपर्ट
  • सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन एक्सपर्ट
  • एफिलिएट मार्केटर
  • कॉन्टेन्ट मार्केटर
  • ईमेल मार्केटिंग
  • फ़ेसबुक मार्केटर
  • इंस्टाग्राम मार्केटर
  • यूट्यूब मार्केटर
  • SEM मार्केटर
  • वेब डिज़ाइनर

Conclusion

आज के पोस्ट में हमने Digital Marketing Course के बारे में जानकारी देने की कोशिश की है, यदि आप को हमारा ये पोस्ट पसंद आया तो अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया हैंडल पर शेयर जरुर करे।

यदि आप के मन में Digital Marketing Course से संबधित कोई भी सवाल हो तो आप हमें कमेट या फिर कॉल कर पूछ सकते है।

यदि आप Digital Marketing Course बहुत ही कम फीस में करना चाहते है तो आप हमें निचे दिए नंबर पर कॉल करे।

डिजिटल मार्केटिंग के क्या फायदे होते हैं

ट्रैक करना

डिजिटल मार्केटिंग से हम आँकड़ों पर नजर रख सकते हैं, ट्रैक करने से हम तय कर सकते हैं कि हमारे व्यापार के लिए क्या अच्छा है,इससे हम आगे की रणनीति लागू कर सकते हैं

ए/बी परीक्षण

ए/बी परीक्षण में हम अपने अभियान को 50-50 चला सकते हैं जिससे हम देख सकते हैं कि बेहतर प्रदर्शन कौन कर रहा है उसके मुताबिक हम अभियान को अंतिम रूप दे सकते हैं

दुनिया के किसी भी हिस्से में अपने प्रॉडक्ट को दिखाना

डिजिटल मार्केटिंग से हम अपने प्रॉडक्ट को दुनिया में ईमेल मार्केटिंग करने बेहतरीन फायदे क्या है कहीं भी दिखा पाते हैं,इसके आलावा हम चुने हुए ग्राहक तक अपने प्रॉडक्ट को दिखा सकते हैं

कम कीमत

डिजिटल मार्केटिंग ऑफलाइन मार्केटिंग से सस्ती होती है,इसमें आप बैनर,पांपलेट,पोस्टर की जगह Facebook ads, Google ads, Instagram ads चला सकते हो जहाँ पर आपको सिर्फ अपने व्यापार के अनुरूप ग्राहकों तक पंहुचने का विकल्प मिलता है

रोकने में आसान

कभी-कभी हमें लगता है कि हम अपने सही ग्राहकों तक पहुंच नहीं पा रहे तो हमारे पास अपना अभियान रोकने का विकल्प होता है, जिसके बाद हम डाटा इकठ्ठा करके रणनीति तैयार करने के बाद फिर से अभियान चला सकते हैं

स्टीक निशाना

डिजिटल मार्केटिंग हमें सही ग्राहक तक अपनी ads को पहुचाने की इजाजत देती है, जहाँ ग्राहकों को उनकी पसंद के आधार पर विज्ञापन दिए जा सकते हैं मतलब ग्राहकों को वही मिलता है जो उनको पसंद है

डिजिटल मार्केटिंग के क्षेत्र में बनाएं करियर, जानें क्या हैं विकल्प

डिजिटल मार्केटिंग के क्षेत्र में बनाएं करियर, जानें क्या हैं विकल्प

इंटरनेट के बढ़ते प्रयोग ने व्यापार के तरीकों पर भी प्रभाव डाला है। इसी कारण जो विज्ञापन सिर्फ अखबार और टेलीविजन तक सीमित थे, वह अब आपके कंप्यूटर और मोबाइल पर भी नजर आने लगे हैं। व्यापार के इस बदलते ट्रेंड ने डिजिटल मार्केटिंग को जन्म दिया है जो कि इंटरनेट के जरिए किया जाने वाली मार्केटिंग है। अगर आप इसमें रुचि रखते हैं तो हम आपको बताएंगे कि कैसे इस क्षेत्र में करियर बनाया जा सकता है।

डिजिटल मार्केटिंग क्या है?

किसी वस्तु की डिजिटल साधनों जैसे कि कंप्यूटर, मोबाइल फोन, लैपटॉप, वेबसाइट पर विज्ञापन या किसी एप्लिकेशन के माध्यम से मार्केटिंग करने की प्रक्रिया को डिजिटल मार्केटिंग कहते हैं। डिजिटल मार्केटिंग डिजिटल तकनीक के माध्यम से ग्राहकों तक पहुंचने का माध्यम है।

डिजिटल मार्केटिंग के फायदे क्या हैं?

डिजिटल मार्केटिंग के जरिए कोई भी कंपनी अपने प्रोडक्ट की मार्केटिंग करके बहुत ही कम समय में अपने ग्राहक तक पंहुच सकती है। इसे ऑनलाइन मार्केटिंग भी कहते हैं। इसके जरिए कम समय में एक ही वस्तु को अलग-अलग प्रकार से दिखाया जा सकता है और ग्राहक को जो प्रोडक्ट पसंद है, वह उसे तुरंत ले सकता है। इस तरह ग्राहक बिना समय व्यतीत किए हुए एक जगह बैठे ही अपनी जरूरत का सामान खरीद सकता है।

डिजिटल मार्केंटिंग करने के बाद नौकरी कहां मिलेगी?

आज के दौर में ऐसी बहुत कंपनियां है जो इंटरनेट के जरिए व्यापार करती हैं और इनमें से अधिकतर को डिजिटल मार्केटिंग मैनेजर की जरुरत पड़ती है। टूरिज्म, बैंकिंग, रिटेल, मीडिया, हॉस्पिटैलिटी जैसी कंपनियों को डिजिटल मार्केटिंग मैनेजर की जरुरत पड़ती है। इन कंपनियों में आपको डिजिटल मार्केंटिंग मैनेजर, ब्रांड मैनेजर, सोशल मीडिया मैनेजर, बिजनेस एनालेटिक्स स्पेशलिस्ट, सर्च इंजन ऑप्टीमाइजेशन स्पेशलिस्ट, वेब डिजाइनर, प्रोफेशनल ब्लॉगर, मोबाइल मार्केटिंग स्पेशलिस्ट, सर्च एक्सपर्ट के तौर पर काम करने का मौका मिल सकता है।

इन संस्थानों से करें डिजिटल मार्केटिंग की पढ़ाई

डिजिटल ईमेल मार्केटिंग करने बेहतरीन फायदे क्या है मार्केटिंग एण्ड मीडिया मैनेजमेंट- YMCA, नई दिल्ली PGDM डिजिटल मार्केटिंग एण्ड ट्रांसफॉर्मेशन- RCM, बेंगलुरू MBA डिजिटल मार्केटिंग- जैन यूनिवर्सिटी, बेंगलुरू सर्टिफिकेट प्रोग्राम इन डिजिटल मार्केटिंग- विवेकानंद एजुकेशन सोसाइटी इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज, मुंबई PGDM डिजिटल मार्केटिंग एण्ड ट्रांसफॉर्मेशन- CMI, कोलकाता डिप्लोमा इन डिजिटल मार्केटिंग- अखिल भारतीय प्रबंधन संघ (AIMA), दिल्ली मास्टर्स इन डिजिटल मार्केटिंग- दिल्ली स्कूल ऑफ इंटरनेट मार्केटिंग (DSIM), दिल्ली और बेंगलुरू डिजिटल मार्केटिंग संस्थान-IDM, मुंबई प्रीमियम प्रोग्राम इन डिजिटल मार्केटिंग- इंटरनेट मार्केटिंग स्कूल, कोलकाता

रेटिंग: 4.57
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 682