बिटकॉइन के 75 प्रतिशत निवेशकों को नुकसान हुआः रिपोर्ट

बिटकॉइन में निवेश करने वाले लगभग 75 प्रतिशत लोगों को नुकसान उठाना सुरक्षित है बिटकॉइन में निवेश करना पड़ा है. एक अंतरराष्ट्रीय संस्था ने 95 देशों में सात साल में हुए निवेश के बाद यह नतीजा निकाला है.

क्रिप्टोकरंसी 'बिटकॉइन' में निवेश करने वाले हर चार में तीन लोगों ने घाटा उठाया है. सोमवार को प्रकाशित हुए एक नए अध्ययन में 2015 से 2022 के बीच 95 देशों में बिटकॉइन निवेशकों से बातचीत के बाद यह निष्कर्ष निकाला गया है.

पिछले कुछ समय में एक के बाद एक कई बड़ी क्रिप्टोकरंसी और उनसे जुड़ीं कंपनियां मुंह के बल गिरी हैं जिसके बाद क्रिप्टो-निवेशकों में हड़कंप मचा हुआ है. हाल ही में एफटीएक्स नामक क्रिप्टो कंपनी के दीवालिया हो जाने से इस निवेश क्षेत्र में लोगों के भरोसे की चूलें हिल गई हैं.

बैंक ऑफ इंटरनेशनल सेटलमेंट्स, जिसे दुनिया के केंद्रीय बैंक का केंद्रीय बैंक भी कहा जाता है, कहता है कि बीते सात साल में बिटकॉइन के निवेशकों ने भारी नुकसान झेला है. अपने अध्ययन में उसने कहा, "कुल मिलाकर देखा जाए तो बिटकॉइन के तीन चौथाई निवेशकों ने अपना धन खोया है.”

युवाओं में ज्यादा रुझान

इस अध्ययन का एक निष्कर्ष यह भी है कि स्मार्टफोन ऐप के जरिए निवेश ने बड़ी संख्या में लोगों को इस मुद्रा में धन लगाने के लिए आकर्षित किया. 2015 में स्मार्टफोन से निवेश करने वालों की संख्या 1,19,000 थी जो 2022 में बढ़कर 3.25 करोड़ पर पहुंच गई.

इस बारे में शोधकर्ताओं ने लिखा, "हमारा विश्लेषण दिखाता है कि दुनियाभर में बिटकॉइन की कीमत का संबंध छोटे निवेशकों के इसमें निवेश से है.” साथ ही उन्होंने कहा कि जैसे-जैसे कीमत बढ़ती जा रही थी और छोटे निवेशक बिटकॉइन खरीद रहे थे, "सबसे बड़े निवेशक इसे बेच रहे थे और छोटे निवेशकों के दम पर मुनाफा कमा रहे सुरक्षित है बिटकॉइन में निवेश करना थे.”

शोधकर्ताओं के पास हर निवेशक के नफे-नुकसान के आंकड़े तो नहीं थे लेकिन वे नए निवेशकों द्वारा खासतौर पर स्मार्टफोन ऐप से निवेश करने से लेकर पिछले महीने तक के बिटकॉइन की कीमत का विश्लेषण कर इन नतीजों पर पहुंचे हैं. उन्होंने यह भी पाया कि क्रिप्टोकरंसी में निवेश करने वालों में सबसे बड़ी संख्या, लगभग 40 प्रतिशत लोग 35 वर्ष से कम आयु के पुरुष थे, जिसे आबादी का "सबसे ज्यादा जोखिम उठाने वाले” हिस्से के रूप में देखा जाता है.

कैसे काम करती है क्रिप्टोकरेंसी

To view this video please enable JavaScript, and consider upgrading to a web browser that supports HTML5 video

शोधकर्ता कहते हैं कि ज्यादातर क्रिप्टो-निवेशक इसे सट्टेबाजी के रूप में ही देख रहे थे. उन्होंने कहा युवा निवेशक उन महीनों में ज्यादा सक्रिय थे, जिससे पिछले महीने में कीमत बढ़ी हो. यानी जब-जब बिटकॉइन की कीमत बढ़ती, उसके अगले महीने निवेश करने वाले युवा बढ़ जाते. शोधकर्ताओं ने निवेशकों के इस व्यवहार को लेकर चिंता जताई है और कहा है कि उपभोक्ताओं की सुरक्षा किए जाने की जरूरत है.

भारत में भी बढ़े निवेशक

वैश्विक क्रिप्टोकरंसी एक्सचेंज कूकॉइन द्वारा जारी किया गया डाटा बताता है कि भारत में "लंबी अवधि में मुनाफा पाने की" भावना से निवेश करने वाले ज्यादा हैं. भारत में 11.5 करोड़ क्रिप्टो निवेशक हैं, यानी 18 से 60 वर्ष की आयु वाले लोगों में लगभग 15 फीसदी ने क्रिप्टोकरंसी में निवेश किया है.

यह रिपोर्ट 18 से 60 सुरक्षित है बिटकॉइन में निवेश करना वर्ष की आयु वर्ग के 2042 लोगों के बीच किए गए एक सर्वेक्षण पर आधारित है. इन निवेशकों में 40 प्रतिशत से ज्यादा लोग 30 से कम आयु के हैं और मानते हैं कि भविष्य में क्रिप्टोकरंसी मुनाफे का सौदा साबित होगी. 54 प्रतिशत निवेशकों को उम्मीद है कि उन्हें मुनाफा होगा. 56 प्रतिशत मानते हैं कि क्रिप्टोकरंसी ही भविष्य की मुद्रा है.

Gold vs Crypto: फेस्टिव सीजन गोल्ड या क्रिप्टो में से किसमें निवेश करना है बेहतर? जानें कहां मिलेगा निवेशकों को ज्यादा रिटर्न

Investment Tips: पिछले कुछ सालों में बिटकॉइन ने अपने निवेशकों को सोने से ज्यादा रिटर्न दिया है. आंकड़ों के मुताबिक 2017 के दिवाली में बिटकॉइन में 312.5% की बढ़त दर्ज की गई थी.

By: ABP Live | Updated at : 24 Oct 2022 01:49 सुरक्षित है बिटकॉइन में निवेश करना PM (IST)

गोल्ड vs क्रिप्टोकरेंसी

Gold vs Cryptocurrency: भारत समेत पूरी दुनिया में क्रिप्टोकरेंसी में निवेश करने वालों की संख्या में तेजी से बढ़ोतरी हुई है. इसमें कुछ सालों में कुछ निवेशकों को तगड़ा रिटर्न दिया है. ऐसे में आजकल इन्वेस्टर्स इसमें निवेश करना बहुत पसंद कर रहे हैं. वहीं गोल्ड भारतीयों का सबसे पुराना और पसंदीदा कमोडिटी रहा है.

गोल्ड ने लगभग हर साल अपने निवेशकों को अच्छा रिटर्न दिया है, लेकिन ज्यादा रिटर्न क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency Investment) ने ही दिया है. ऐसे में अक्सर निवेशकों के मन में यह सवाल उठता है कि अखिर वह गोल्ड या क्रिप्टोकरेंसी (Gold vs Cryptocurrency) में से किस ऑप्शन में निवेश करें, जहां उन्हें ज्यादा के साथ-साथ सुरक्षित रिटर्न की गारंटी मिलती है.

भारत में आजकल लोग फेस्टिव सीजन में डिजिटल गोल्ड (Digital Gold) खरीदना बहुत पसंद कर रहे हैं. इसमें निवेश करने वालों की संख्या में इजाफे का सबसे बड़ा कारण यह है कि इसकी वैल्यू फिजिकल गोल्ड की तरह ही होती है और इसे सुरक्षित जगह पर रखने का कोई झंझट भी नहीं होता है. वहीं क्रिप्टोकरेंसी आप डिजिटल माध्यम से ही निवेश करते हैं. ऐसे में हम आपको बताते हैं कि आपको कहां निवेश करने पर ज्यादा रिटर्न मिलेगा.

बिटकॉइन vs सोना
पिछले कुछ सालों में बिटकॉइन ने अपने निवेशकों को सोने से ज्यादा रिटर्न दिया है. आंकड़ों के मुताबिक 2017 के दिवाली में बिटकॉइन में 312.5% की बढ़त दर्ज की गई थी. साल 2018 में यह बढ़त 196.3% दर्ज की गई थी. साल 2019 में इसके प्राइस में 96.4% की बढ़त दर्ज की गई है.

News Reels

इसके अलावा कोरोना काल में भी इसमें निवेशों को लाभ हुआ है. बात करें सोने की तो साल 2017 में इसके प्राइस में 29.5% की बढ़त दर्ज की गई है. साल 2018 में 36.1% और साल 2019 में निवेशकों सुरक्षित है बिटकॉइन में निवेश करना को 25.1% तक का रिटर्न गोल्ड पर मिला है. ऐसे में गोल्ड ने भी निवेशकों को अच्छा रिटर्न दिया है, लेकिन यह बिटकॉइन की तुलना में बेहद कम है.

गोल्ड में निवेश करना ज्यादा सुरक्षित
आपको बता दें कि भले ही सोने में निवेश करने पर आपको बिटकॉइन (Bitcoin) की तुलना में कम रिटर्न हासिल हो रहा है, लेकिन यह निवेश और सरकार द्वारा सुरक्षित है बिटकॉइन में निवेश करना मान्यता प्राप्त है. दोनों ही मार्केट रिस्क पर निर्भर करता है, लेकिन गोल्ड में उठापटक क्रिप्टोकरेंसी की तुलना में बेहद कम होता है. आज भी निवेशकों के बीच में गोल्ड एक बेहद विश्वसनीय कमोडिटी है, लेकिन क्रिप्‍टोकरेंसी पर अभी तक निवेशकों के बीच सुरक्षित है बिटकॉइन में निवेश करना वैसा विश्वास नहीं बन पाया है.

ये भी पढ़ें-

Published at : 24 Oct 2022 01:49 PM (IST) Tags: Gold Bitcoin Gold vs Cryptocurrency Gold vs Crypto हिंदी समाचार, ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें abp News पर। सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट सुरक्षित है बिटकॉइन में निवेश करना एबीपी न्यूज़ पर पढ़ें बॉलीवुड, खेल जगत, कोरोना Vaccine से जुड़ी ख़बरें। For more related stories, follow: Business News in Hindi

Cryptocurrency में मिलता है तगड़ा रिटर्न, लेकिन कैसे करना है Bitcoin, इथीरियम जैसी करेंसी में निवेश और किन बातों का रखना है ध्यान, जानिए पूरी बात

Cryptocurrency अपने देश में अभी रेग्युलेटेड नहीं है, लेकिन सरकार इसे रेग्युलेट करने को लेकर जोर-शोर से तैयारी कर सुरक्षित है बिटकॉइन में निवेश करना रही है. ऐसे में अगर डिजिटल करेंसी में निवेश करना चाहते हैं तो कुछ महत्वपूर्ण बातों को ध्यान में रखना होगा.

Cryptocurrency में मिलता है तगड़ा रिटर्न, लेकिन कैसे करना है Bitcoin, इथीरियम जैसी करेंसी में निवेश और किन बातों का रखना है ध्यान, जानिए पूरी बात

फाइनेंशियल मार्केट में अभी Cryptocurrency सबके सिर चढ़कर बोल रहा है. सरकार भी इसे रेग्युलेट करने की पूरी तैयारी में जुटी है. क्रिप्टोकरेंसी के प्रति दीवानगी का सबसे बड़ा कारण है इससे होने वाली मोटी कमाई. दुनिया के बड़े-बड़े उद्योगपति जैसे जैक डोर्सी, एलन मस्क इसका खुलकर समर्थन कर रहे हैं.

यही वजह है कि रिटेल इन्वेस्टर्स क्रिप्टोकरेंसी में बड़े पैमाने पर निवेश कर रहे सुरक्षित है बिटकॉइन में निवेश करना हैं. पिछले कुछ दिनों से क्रिप्टोकरेंसी में गिरावट जरूर है, लेकिन जानकारों का कहना है कि डिमांड और इंट्रेस्ट बढ़ने के कारण एकबार फिर से इसमें तेजी आएगी. अपने देश में इस समय इस बात पर चर्चा है कि क्रिप्टोकरेंसी को असेट का दर्जा दिया जाए और उसी आधार पर टैक्स और इन्वेस्टमेंट संबंधी नियमन तय किए जाएं. ऐसे में अगर आप भी डिजिटल असेट में निवेश के बारे में सोच रहे हैं तो कुछ बातों को ध्यान में रखना बेहद जरूरी है.

सबसे पहले सही Crypto Exchange की करें पहचान

जैसा कि हम जानते हैं इस समय अपने देश में क्रिप्टोकरेंसी रेग्युलेटेड नहीं है. हालांकि, कई सारे क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज हैं जिनकी मदद से इसमें निवेश किया जा सकता है. ऐसे में निवेशक के तौर पर सबसे पहली चुनौती सही क्रिप्टो एक्सचेंज की पहचान करना है. WazirX, CoinDCX और CoinSwitch Kuber इस समय सबसे पॉप्युलर क्रिप्टो एक्सचेंज हैं. इन प्लैटफॉर्म्स को यूजर्स के हिसाब से काफी फ्रेंडली बनाया गया है जिससे कोई भी निवेशक आसानी से निवेश कर सके.

अब अपना अकाउंट सुरक्षित तरीके से क्रिएट करें

क्रिप्टो एक्सचेंज को लेकर फैसला लेने के बाद अपने लिए सही तरीके से अकाउंट तैयार करना काफी जरूरी है. यह काफी सिक्यॉर्ड होना चाहिए. अलग-अलग क्रिप्टो एक्सचेंज पर लॉगिन संबंधी तमाम जानकारियां उपलब्ध हैं. यह बैंक अकाउंट खुलवाने जैसा है जिसमें ऑनलाइन कई डॉक्युमेंट जमा करने होते हैं और आपका अकाउंट ओपन हो जाता है.

बैंक अकाउंट से कनेक्ट कर ट्रांजैक्शन को आसान बनाएं

किसी तरह का ट्रांजैक्शन करने के लिए आपके क्रिप्टो अकाउंट में पैसे की जरूरत होती है. यह काम बैंक अकाउंट की मदद से होता है. यहां पर सावधानी बरतने की जरूरत होती है, क्योंकि आपको क्रिप्टो अकाउंट में पैसे जमा करने के साथ-साथ पैसे निकासी के बारे में सही और पूरी जानकारी होनी चाहिए.

वैल्यु वाली करेंसी में करें निवेश

इतनी प्रक्रिया पूरी होने के बाद आपको अपने लिए सही डिजिटल करेंसी की पहचान करनी होगी. बिटक्वॉइन, इथीरियम, Cardano, Binance Coin, Tether, XRP जैसी करेंसी में आसानी से निवेश किया जा सकता है. जानकारों की सलाह होती है कि निवेशकों को वैल्यु करेंसी में निवेश करना चाहिए. यहां सुरक्षित है बिटकॉइन में निवेश करना वोलाटिलिटी कम होती है और आपका निवेश ज्यादा सुरक्षित माना जाता है. इस समय पूरी दुनिया में 5000 से भी ज्यादा डिजिटल करेंसी है. ऐसे में किसी करेंसी में निवेश से पहले उसके बारे सारी जानकारी जरूर इकट्ठा कर लें. क्रिप्टो अकाउंट हैक भी किया जा सकता है, इसलिए इसे सुरक्षित रखें.

अलग-अलग डिजिटल करेंसी का रेट

गुरुवार रात को 9 बजे बिटक्वॉइन का रेट 44 हजार डॉलर के करीब है. उसी तरह इथीरियम का रेट 3100 डॉलर, XRP का रेट 0.98 डॉलर, Cardano का रेट 2.22 डॉलर और Tether का रेट 1 डॉलर के करीब है.

भारत में कैसे खरीदें बिटकॉइन?

WazirX पर बिटकॉइन की ट्रेडिंग आसान इसलिए है क्योंकि WazirX अपने प्लेटफॉर्म पर करीब 52-53 लाख रुपये के बिटकॉइन को अंशों में खरीदने की सुविधा देता है

बिटकॉइन दुनिया की सबसे बड़ी क्रिप्टोकरेंसी है। इसमें 2009 में इसकी शुरुआत से अब तक कई गुना बढ़ोतरी देखने को मिली है। इस साल के शुरुआत से अब तक इसमें 120 फीसदी से ज्यादा की बढ़ोतरी देखने को मिली है। हालांकि इस असेट क्लास को बीच में झटके लगे हैं। फिर भी डिजिटल करेंसी ने पूरी दुनिया में जबरदस्त लोकप्रियता हासिल कर ली। अब तो दुनिया के तमाम सेंट्रल बैंक भी इस बात पर विचार कर रहे हैं कि किस तरीके से डिजिटल करेंसी को मुख्य धारा की मुद्रा के तौर पर मान्यता दी जाए। संस्थागत रूप से मिल रही स्वीकृति बिटकॉइन में जबरदस्त तेजी की अहम वजहों में से एक रही है।

पूरी दुनिया में इन्फ्लेशन (महंगाई) की बढ़ती चिंताओं के बीच बिटकॉइन को सेफ हैवेन असेट (सबसे सुरक्षित निवेश विकल्प) माना जा रहा है। न्यू यॉर्क स्टॉक एक्सचेंज पर बिटकॉइन ETF(एक्सचेंज ट्रेड फंड) के हाल में हुए आगाज ने भी बिटकॉइन की कीमतों में जोरदार उछाल में सहयोग किया है। इसके साथ ही अक्टूबर का महीना पूरे स्टॉक मार्केट लिए भी रिकॉर्ड ब्रेकिंग रहा है। इसके अलावा 35 करोड़ यूजर वाले पे पल (PayPal) ने भी क्रिप्टो में होने वाली पेमेंट को मंजूरी दे दी है। इन सब कारणों के चलते 9 नवंबर 2021 को बिटकॉइन की कीमतें 68,641.57 डॉलर के ऑल टाइम हाई पर पहुंच गईं।

मीडिया में आई खबरों के बीच भारत में सरकार क्रिप्टो करेंसी पर कानून बनाने पर काम सुरक्षित है बिटकॉइन में निवेश करना कर रही है। बता दें कि इसके पहले सरकार की तरफ से कई ऐसे बयान आए हैं कि जिसमें कहा गया था कि क्रिप्टो करेंसी पर पूर्ण रूप से बैन लगाया जाएगा। लेकिन अब सरकार के रूख में काफी बदलाव आया है और क्रिप्टो करेंसी के रेगुलेशन पर विचार कर रही है। RBI द्वारा पिछले साल क्रिप्टो करेंसी के बैन को हटाने के बाद भारत में किप्टो की कीमतों में जोरदार उछाल देखने को मिला है।

Cryptocurrency: दुनिया की टॉप 5 मशहूर क्रिप्टोकरेंसी- निवेश करने वाले ने खूब बनाया पैसा

Linkedin

Top 5 Cryptocurrency in 2021: Crypto बाजार में लगातार निवेशक बढ़ते जा रह हैं. हाल के कुछ हफ्तों में Cryptocurrency Market में जबरदस्त उतार-चढ़ाव आए हैं. बुधवार को मार्केट क्रैश भी हुआ लेकिन जल्द ही उभर भी गया. फिलहाल बाजार में कई Cryptocurrency मौजूद हैं लेकिन कुछ ही Cryptocurrency ऐसी हैं जो ज्यादा सुर्खियां बटोरती हैं. ऐसे में आज यहां मार्केट कैपिटलाइजेशन के लिहाज से टॉप-5 क्रिप्टोकरेंसी के बारे में बताने वाले हैं. जिनमें निवेशकों का काफी ज्यादा निवेश देखने को मिल रहा है.

रेटिंग: 4.12
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 687