एसबीआई योनो के तहत शेयर बाजार में ट्रेडिंग करने वाले निवेशकों के लिए बेहतर ऑफर मिल रहा है. (Image- SBI)

कैसे बंद करें Demat अकाउंट, कितना लगता है चार्ज, जानिए सबकुछ

Demat Account closing: डीमैट अकाउंट बंद करना आसान सी प्रक्रिया है. बस आपको कुछ जरूरी कागज इकट्ठा कर बैंक शाखा में जमा करने हैं और 7-10 दिनों के बीच आपका अकाउंट बंद हो जाएगा.

शेयर बाजार में पैसा लगाने के लिए आपको एक खाते की जरूरत होती है, इस खाते को डीमैट अकाउंट (Demat A/c) के नाम से जाना जाता है. डीमैट अकाउंट (Demat A/c) को मेंटेन करने के लिए हर साल फीस लगती है, इसलिए आपकी डीमैट अकाउंट (Demat A/c) अगर इएक्टिवेट है तो आप उसे बंद करा सकते हैं. अगर आप ऐसा नहीं करेंगे तो आपको इसके लिए भारी कीमत चुकानी पड़ सकती है. हालांकि काफी लोगों को इस बारे में जानकारी नहीं होती लेकिन समय के साथ डीमैट अकाउंट (Demat A/c) बंद कर देना फायदेमंद होता है. अगर आप नहीं जानते कि डीमैट अकाउंट (Demat A/c) कैसे बंद किया जाता है, तो आप नीचे बताए गए स्टेप्स से आसानी से अपना डीमैट अकाउंट (Demat A/c) बंद कर सकते हैं.

कैसे बंद करें डीमैट (Demat)?

सबसे पहले ऑनलाइन तरीके से अकाउंट क्लोजर फॉर्म डाउनलोड करें और उसे भरें. इसके बाद डिपॉजिटरी पार्टिसिपेंट (DP) अधिकारी के सामने उस फॉर्म पर साइन करें. बता दें कि कोई ब्रोकरेज फर्म या बैंक डीपी (DP) हो सकता है.

बंद करते समय किन कागजों की होगी जरूरत?

  • आपकी आईडी (ID) या डीपी की आईडी (DP ID)
  • केवाईसी (KYC) डिटेल्स, नाम और पता की जानकारी
  • डीमैट अकाउंट बंद करने का कारण
  • बैंक अधिकारी की ओर से वेरिफाइड आईडी

इन सभी कागजों को अपनी पास की बैंक शाखा में जाकर बंद कर सकते हैं. इसके अलावा अगर आपके डीमैट अकाउंट में होल्डिंग्स है और आप अपना अकाउंट बंद करना चाहते हैं तो इसके लिए भी एक प्रक्रिया बताई गई है.


Zee Business Hindi Live यहां देखें

होल्डिंग्स होने के बाद कैसे बंद करें डीमैट

  • अकाउंट क्लोजर फॉर्म डाउनलोड करें और भरें
  • डिलिवरी इंस्ट्रक्शन स्लिप भरें और अपने दूसरे डीमैट अकाउंट में होल्डिंग्स ट्रांसफर करें
  • नए अकाउंट से क्लाइंट मास्टर रिपोर्ट जमा करें
  • अपने नजदीकी बैंक शाखा में जाकर फॉर्म जमा करें

नहीं लगता कोई चार्ज

हालांकि डीमैट अकाउंट (Demat A/c) को बंद करने में कोई राशि नहीं लगती है, ये एकदम फ्री प्रक्रिया है. डीमैट अकाउंट (Demat A/c) बंद करने से पहले आपको ध्यान रखना होगा कि सिर्फ ऑनलाइन मेल करने या रिक्वेस्ट डालने से डीमैट अकाउंट बंद नहीं होता है. इसके लिए आपको बैंक शाखा जाकर एक फॉर्म भरना होता है और जरूरी कागज जमा करने होते हैं.

एक बार फॉर्म भरने और बैंक में उसे जमा करने के 7 से 10 वर्किंग डेज के बाद आपका डीमैट अकाउंट बंद हो जाएगा. अकाउंट बंद करने के लिए कोई चार्ज नहीं वसूला जाता है.

डीमैट अकाउंट खोलना चाहते हैं तो ये बातें जान लें

अगर आप भी सीधे शेयरों में निवेश करना चाहते हैं तो आप ऑनलाइन ट्रेडिंग और डीमैट अकाउंट खोलकर ऐसा कर सकते हैं.

डीमैट अकाउंट खोलना चाहते हैं तो ये बातें जान लें

अगर आप भी सीधे शेयरों में निवेश करना चाहते हैं तो आप ऑनलाइन ट्रेडिंग और डीमैट अकाउंट खोलकर ऐसा कर सकते हैं.

जानिए कैसे खुलेगा यह अकाउंट:

ब्रोकरेज कंपनियां खोलती हैं यह अकाउंट

ऑनलाइन निवेश करने के लिए ब्रोकिंग खाते की जरूरत होती है. इसे एचडीएफसी सिक्योरिटीज, आईसीआईसीआई डायरेक्ट, एक्सिस डायरेक्ट, फेयर्स और जेरोधा जैसे किसी भी ब्रोकरेज के पास जाकर खोला जा सकता है.

ट्रेडिंग के लिए डीमैट काफी नहीं

शेयरों में सीधे निवेश करने के लिए आपके पास तीन खाते होने चाहिए. इनमें बैंक खाता, ट्रेडिंग खाता और डीमैट खाता शामिल हैं. ट्रेडिंग खाते के बगैर डीमैट खाता अधूरा है. डीमैट खाते में आप सिर्फ डिजिटल रूप में शेयरों को रख सकते हैं.

जबकि ट्रेडिंग अकाउंट के साथ आप शेयर, आर्इपीओ, म्यूचुअल फंड और यहां तक गोल्ड में निवेश कर सकते हैं. इसके बाद आप इन्हें डीमैट खाते में रख सकते हैं.

डीमैट में शेयरों के रखरखाव का काम डेपॉजिटरी पार्टिसिपेंट (डीपी) करते हैं. इनमें नेशनल सिक्योरिटी डिपॉजिटरी लिमिटेड (एनएसडीएल) और सेंट्रल डिपॉजटरी सर्विसेज लिमिटेड (सीडीएसएल) शामिल हैं.

एक से दूसरे खाते में इस तरह जाती है रकम

-पहले आपके सेविंग्स बैंक अकाउंट से ट्रेडिंग अकाउंट में रकम आती है.

-ट्रेडिंग अकाउंट की अपनी खास आर्इडी होती है. इस खाते की मदद से शेयरों की खरीद-फरोख्त की जा सकती है.

-जितने शेयर खरीदे या बेचे जाते हैं, यह डीमैट खाते में दिखता है. डीमैट खाते का इस्तेमाल बैंक की तरह होता है जहां शेयरों को जमा किया जाता है.

ब्रोकरेज फर्म की फीस देख लें

किसी भी वित्तीय सेवा की तरह डीमैट खाते के साथ भी चार्ज जुड़े होते हैं. इसमें ब्रोकर को चुनने में खास ध्यान देना चाहिए. खाता खोलने की फीस और ब्रोकिंग चार्ज के अलावा ट्रांजैक्शन चार्ज को भी देख लेना चाहिए.

शेयर मार्केट में अकाउंट कैसे खोलें? पूरी जानकारी | Share Market me account kaise khole in Hindi

Share Market me account kaise khole शेयर मार्केट की पूरी जानकारी प्राप्त होने के बाद आपको यह भी पता होना चाहिए कि अपना शेयर मार्केट का अकाउंट कैसे खोलें? अगर आपके पास Demate Account नहीं होगा तो आप शेयर मार्केट शुरू नहीं कर सकते और आपको अपने shares को रखने के लिए डिमैट अकाउंट की जरूरत होती है और उसी में आपके ट्रेडिंग में profit हुए पैसे आते हैं।

अगर आप भी यह जानना चाहते हैं कि Share Market me account kaise khole, तो दोस्तों आज हम आपके लिए इस खास आर्टिकल को लेकर आए हैं जिसमें हम आपको पूरी जानकारी देंगे Share Market me account kaise khole

Share Market me account kaise khole

शेयर मार्केट में अकाउंट कैसे खोलें? पूरी जानकारी, Share Market me account kaise khole in Hindi, What is Share Market, Share Market में account कैसे खोले, Share Market कैसे काम करता है, Share Market से कितना फायदा हो सकता है, angel one account opening, demat account kaise khole, demat account opening online, how to start in share market, share market me shuru kaise kare, how to start investing in stock market, share market me paise kaise lagaye, share market account kaise khole, share market account opening process, angel one demat account, free demat account, best stock broker in india, share bazaar, share market basics for beginners, angel one, angel broking, demat account
Share Market me account kaise khole in Hindi

अगर आप शेयर मार्केट करना शुरू करते हैं, तो आपको अपना एक Demat Account खोलना होगा। जिसके अंदर आप शेयर खरीद और बेच सकते हैं और जब आप अपना Demat Account खोलते हैं, तो आपको एक अलग आईडी दी जाती है। जिसके अंदर आप इन्वेस्टमेंट और ट्रेडिंग कर सकते हैं। डीमेट अकाउंट को खोलने के लिए आपसे कुछ जरूरी डाक्यूमेंट्स लिए जाते हैं।

Share Market me account kaise khole शेयर मार्केट को शुरू करने के लिए आपके पास Demat Account होना बहुत जरूरी है। Demat Account के बिना आप शेयर मार्केट शुरू नहीं कर सकते। आजकल डिमैट अकाउंट खुलवाने वालों की संख्या बहुत बढ़ गई है। अगर आपको Demat Account खुलवाना है, तो आप बैंक में जाकर भी खुलवा सकते हैं या फिर आप खुद भी खोल सकते हैं।

Demat Account खुलवाने के लिए आपको बहुत सारे प्लेटफार्म मिल जाएंगे। लेकिन आज हम जिन दो प्लेटफार्म के बारे में बताने वाले हैं वे सबसे लोकप्रिय प्लेटफार्म माने जाते हैं उन प्लेटफार्म का नाम Zerodha और Angle Broking इनमें से किसी में भी अपना Demat Account खुलवा सकते हैं और शेयर मार्केट शुरू कर सकते हैं।

तो चलिए दोस्तों अब हम आपको यह बताते हैं कि आप इन दोनों Zerodha में अकाउंट खोलने पर कितना पैसा लगता है? प्लेटफार्म में अपना Demat Account कैसे खोल सकते हैं।

Zerodha में शेयर मार्केट में अकाउंट कैसे बनाएं?

Share Market me account kaise khole शेयर मार्केट को शुरू करने से पहले आपको डिमैट अकाउंट खुलवाना होता है तो आज हम बताएंगे Zerodha में आप किस तरह अपना डिमैट अकाउंट खोल सकते हैं। Zerodha में डिमैट अकाउंट खोलना आपको थोड़ा मुश्किल लग सकता है। लेकिन हम आपको Step by Step पूरी प्रोसेस बताएंगे जिसकी सहायता से यह आपको ज्यादा मुश्किल नहीं लगेगा।

Zerodha आपको एक User Friendly Interface Provide करता है। जिसकी मदद से आप आसानी से अपना Demat Account खुलवा सकते हैं और इसकी खास बात यह है कि आपको इसके लिए कहीं जाने की जरूरत नहीं होती। आप Zerodha में अकाउंट ऑनलाइन व ऑफलाइन दोनों ही Zerodha में अकाउंट खोलने पर कितना पैसा लगता है? प्रकार से खोल सकते हैं।

अगर आप ऑफलाइन अकाउंट खोलते हैं, तो इसमें लगभग आपके 5 से 7 दिन लग जाते हैं। वहीं अगर आप ऑनलाइन अकाउंट खोलते हैं तो आपको 15 से 20 मिनट लगते हैं, तो चलिए अब जानते हैं Zerodha में अकाउंट कैसे खोला जाता है।

Step 2- साइन अप करने के लिए आपको अपने मोबाइल नंबर डालने होंगे जिस पर ओटीपी भेजा जाएगा और आपका नंबर रजिस्टर होगा।

Step 3- साइनअप होने के बाद आपको अपनी ईमेल आईडी डालनी है जिसके लिए आपके नंबर पर ईमेल वेरीफिकेशन कोड आएगा, जिसे वहां बताई गई जगह पर fill करें।

Step 4-ईमेल वेरिफिकेशन के बाद आपको कुछ पर्सनल डिटेल्स भी डाली होगी जैसे date of birth, Aadhar card number, PAN card number नंबर पेनकार्ड नंबर आदि।

Step 5-आपको अपना अकाउंट खोलने के लिए कुछ पैसे जमा करवाने होंगे। जिसके लिए आप क्रेडिट कार्ड या डेबिट कार्ड का उपयोग भी कर सकते हैं।

Step 6-अपने अकाउंट से आधार कार्ड लिंक करने के लिए आपकी स्क्रीन पर कनेक्ट टू डिजिलॉकर का ऑप्शन नजर आएगा, जिस पर क्लिक करके आप अपना आधार कार्ड लिंक करवा सकते हैं।

Step 8-ओटीपी डालने के बाद आपको अपना आईडी पासवर्ड बनाना है, ऐसा करने के बाद ही आप digilocker से अपने आधार कार्ड को जोड़ पाएंगे।

Step 10- बैंक की जानकारी देने के बाद आपको अपनी पर्सनल डिटेल्स भी देनी होंगी। जिसके बाद आपको एक ओटीपी मिलेगा उसे आप कहीं नोट कर के रख ले।

Step 11-यह सब होने के बाद आपका in person verification होगा। इन पर्सन वेरीफिकेशन, फोन या वेबकैम के द्वारा ऑनलाइन किया जाएगा। इन पर्सन वेरीफिकेशन के तहत आपको पासपोर्ट साइज फोटो, सिग्नेचर, cancelled cheque, इन सभी को स्कैन करके जमा करवाना होता Zerodha में अकाउंट खोलने पर कितना पैसा लगता है? है।

Step 12-in person verification के बाद आपको zerodha के नियम और शर्तें का पेज दिखाई देगा। जिसे ध्यान से पढ़े और sign in करें। साइन करते वक्त आपको वह ओटीपी डालना है जो आपने पहले नोट किया था।

Step 13-यह प्रोसीजर पूरा होने के बाद आपको जीरोधा की तरफ से client ID and password भेज दिया जाएगा जिसकी मदद से आप जीरोधा में ट्रेड कर सकते हैं।

कैसे बंद करें Demat अकाउंट, कितना लगता है चार्ज, जानिए सबकुछ

Demat Account closing: डीमैट अकाउंट बंद करना आसान सी प्रक्रिया है. बस आपको कुछ जरूरी कागज इकट्ठा कर बैंक शाखा में जमा करने हैं और 7-10 दिनों के बीच आपका अकाउंट बंद हो जाएगा.

शेयर बाजार में पैसा लगाने के लिए आपको एक खाते की जरूरत होती है, इस खाते को डीमैट अकाउंट (Demat A/c) के नाम से जाना जाता है. डीमैट अकाउंट (Demat A/c) को मेंटेन करने के लिए हर साल फीस लगती है, इसलिए आपकी डीमैट अकाउंट (Demat A/c) अगर इएक्टिवेट है तो आप उसे बंद करा सकते हैं. अगर आप ऐसा नहीं करेंगे तो आपको इसके लिए भारी कीमत चुकानी पड़ सकती है. हालांकि काफी लोगों को इस बारे में जानकारी नहीं होती लेकिन समय के साथ डीमैट अकाउंट (Demat A/c) बंद कर देना फायदेमंद होता है. अगर आप नहीं जानते कि डीमैट अकाउंट (Demat A/c) कैसे बंद किया जाता है, तो आप नीचे बताए गए स्टेप्स से आसानी से अपना डीमैट अकाउंट (Demat A/c) बंद कर सकते हैं.

कैसे बंद करें डीमैट (Demat)?

सबसे पहले ऑनलाइन तरीके से अकाउंट क्लोजर फॉर्म डाउनलोड करें और उसे भरें. इसके बाद डिपॉजिटरी पार्टिसिपेंट (DP) अधिकारी के सामने उस फॉर्म पर साइन करें. बता दें कि कोई ब्रोकरेज फर्म या बैंक डीपी (DP) हो सकता है.

बंद करते समय किन कागजों की होगी जरूरत?

  • आपकी आईडी (ID) या डीपी की आईडी (DP ID)
  • केवाईसी (KYC) डिटेल्स, नाम और पता की जानकारी
  • डीमैट अकाउंट बंद करने का कारण
  • बैंक अधिकारी की ओर से वेरिफाइड आईडी

इन सभी कागजों को अपनी पास की बैंक शाखा में जाकर बंद कर सकते हैं. इसके अलावा अगर आपके डीमैट अकाउंट में होल्डिंग्स है और आप अपना Zerodha में अकाउंट खोलने पर कितना पैसा लगता है? अकाउंट बंद करना चाहते हैं तो इसके लिए भी एक प्रक्रिया बताई गई है.


Zee Business Hindi Live यहां देखें

होल्डिंग्स होने के बाद कैसे बंद करें डीमैट

  • अकाउंट क्लोजर फॉर्म डाउनलोड करें और भरें
  • डिलिवरी इंस्ट्रक्शन स्लिप भरें और अपने दूसरे डीमैट अकाउंट में होल्डिंग्स ट्रांसफर करें
  • नए अकाउंट से क्लाइंट मास्टर रिपोर्ट जमा करें
  • अपने नजदीकी बैंक शाखा में जाकर फॉर्म जमा करें

नहीं लगता कोई चार्ज

हालांकि डीमैट अकाउंट (Demat A/c) को बंद करने में कोई राशि नहीं लगती है, ये एकदम फ्री प्रक्रिया है. डीमैट अकाउंट (Demat A/c) बंद करने से पहले आपको ध्यान रखना होगा कि सिर्फ ऑनलाइन मेल करने या रिक्वेस्ट डालने से डीमैट अकाउंट बंद नहीं होता है. इसके लिए आपको बैंक शाखा जाकर एक फॉर्म भरना होता है और जरूरी कागज जमा करने होते हैं.

एक बार फॉर्म भरने और बैंक में उसे जमा करने के 7 से 10 वर्किंग डेज के बाद आपका डीमैट अकाउंट बंद हो जाएगा. अकाउंट बंद करने के लिए कोई चार्ज नहीं वसूला जाता है.

SBI YONO पर खोलिये डीमैट और ट्रेडिंग अकाउंट; कम होगा खर्च, सालाना AMC पर भी मिलेगी छूट

SBI Yono Trading Offer: शेयर ट्रे़डिंग के लिए आपके पास Demat Account और Trading Account होना चाहिए. SBI Yono के जरिए इन खातों को खोल रहे हैं तो आपके 1350 रुपये बचेंगे.

SBI YONO पर खोलिये डीमैट और ट्रेडिंग अकाउंट; कम होगा खर्च, सालाना AMC पर भी मिलेगी छूट

एसबीआई योनो के तहत शेयर बाजार में ट्रेडिंग करने वाले निवेशकों के लिए बेहतर ऑफर मिल रहा है. (Image- SBI)

SBI Yono Trading Offer: स्टॉक ट्रे़डिंग के लिए आपके पास Demat Account और Trading Account होना चाहिए. इन दोनों खातों पर शुल्क भी देय होता है लेकिन अगर SBI Yono के जरिए इन खातों को खोल रहे हैं तो आपके 1350 रुपये बचेंगे. अगर आप शेयर बाजार में उतार-चढ़ाव से नहीं घबराते हैं और अपनी पूंजी पर बेहतर रिटर्न निवेश करना चाहते हैं तो इक्विटी में निवेश बेहतर विकल्प हैं. इसके लिए आपको कुछ जरूरी औपचारिकताएं पूरी करनी होती हैं जिसके बिना आप ट्रेडिंग नहीं कर सकते हैं और शेयर्स को होल्ड नहीं कर सकते हैं.
बैंक द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक एसबीआई योनो के जरिए इन दोनों खातों को खोलने पर 1350 रुपये की बचत होगी. इसमें 850 रुपये खाता खोलने का शुल्क नहीं लगेगा. इसके अलावा सालाना डीपी एएमसी (एकाउंट मेंटेनेंस चार्ज) के तहत 500 रुपये का चार्ज पहले साल नहीं चुकाना होगा.

इस तरह खोलें डीमैट और ट्रेडिंग खाता

  • योनो की वेबसाइट पर लॉग इन करें.
  • Menu पर क्लिक करें.
  • Financial Produts के तहत Investments में Securities पर क्लिक करें.
  • Link / Open a New Demat & Trading Account पर क्लिक करें.
  • Open Demat & Trading Account पर क्लिक करें. इसके बाद दिए गए स्टेप्स को फॉलो कर अपना डीमैट और ट्रेडिंग खाता खोल सकते हैं.

Yono App के जरिए ऐसे खोलें खाता

  • ऐप में लॉग इन करें.
  • मेन्यू के लिए ऊपर बायीं तरफ बने सिंबल पर क्लिक करें
  • एक डॉप मेन्यू खुलेगा. उसमें इंवेस्ट पर क्लिक करें.
  • अगले मेन्यू में ‘ओपन डीमैट एंड ट्रेडिंग अकाउंट’ पर क्लिक करें.
  • Through SBICap Securities के तहत दिए गए विकल्प ‘ओपन डीमैट एंड ट्रेडिंग अकाउंट’ पर क्लिक करें.
  • इसके बाद दिए गए स्टेप्स को फॉलो Zerodha में अकाउंट खोलने पर कितना पैसा लगता है? करें.

क्या होता है डीमैट और ट्रेडिंग खाता

आपने जिन शेयरों या सिक्योरिटीज (बांड्स, ईटीएफ, म्यूचुअल फंड यूनिट्स इत्यादि) में निवेश किया है, उन्हें डिजिटल मोड में डीमैट खाते में रखा जाता है. इसके विपरीत ट्रेडिंग अकाउंट के जरिए ही डीमैट खाते में रखे सिक्योरिटीज की बिक्री की जा सकती है. ट्रेडिंग खाते के जरिए ही स्टॉक एक्सचेंज पर आप शेयरों की खरीद-बिक्री के लिए पोजिशंस ले सकते हैं. ब्रोकरेज फर्म अकाउंट ओपनिंग्स के लिए शुल्क लेती हैं.

Post Office TD: ये सरकारी स्‍कीम 10 लाख पर देगी 3.8 लाख ब्‍याज, 1 साल से 5 साल तक निवेश के हैं विकल्‍प

रेटिंग: 4.75
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 758