बड़ी खबरें

Budget 2023 : निर्मला सीतारमण के बजट से पहले शेयरों में दिख रहे कमाई के मौके, जानिए कैसे उठा सकते हैं फायदा

लाइव टीवी

मार्केट न्यूज़

क्रेडिट सुइस ने भारत की रेटिंग ‘अंडरवेट’ से बढ़ाकर ‘बेंचमार्क’ की, जानिए किन शेयरों पर है इसकी नज़र

शेयर बाजार पर इन 10 खबरों का होगा असर, जानिए कहां लगाएं पैसा और कहां बचकर रहें

मल्टीमीडिया

HDFC Share Price: पैसा बनाना चाहते हैं तो जानिए रणनीति

HDFC Limited Share News: कैसा है इस Stock का Structure? Buy करने से मिलेगा अच्छा Profit? | जानिए क्या है स्टॉक का Target Price और Stoploss. इसी पर विस्तार से करेंगे चर्चा, देखें वीडियो.

शेयर बाजार पर इन 10 खबरों का होगा असर, जानिए कहां लगाएं पैसा और कहां बचकर रहें

Stock Market Today: Ashish Verma संग बाजार की 10 ऐसी बड़ी खबरों पर करेंगे चर्चा जिससे बाजार में देखने को मिलेगा Action, किन Stocks और खबरों से बढ़ेगी बाजार की Strength और कहां बचकर रहें. देखें वीडियो.

DLF Share Price: पैसा लगाने का सही वक्त है क्या?

DLF में जानें निवेश को लेकर क्या है Experts की राय. जानें किन Levels पर करना चाहिए आपको खरीदारी और किस Strategy के साथ इस Stock में पैसा कमाया जा सकता है | क्या है Target price, देखें वीडियो.

IRCTC Share Price: सरकार सस्ते में बेच रही हिस्सेदारी

IRCTC Share शेयर मार्केट में एनालिसिस कैसे करें Price: सरकार जिस जिस भाव पर अपनी हिस्सेदारी बेच रही है वह बुधवार 14 दिसंबर के बंद भाव से नीचे है. बुधवार 14 दिसंबर को 1.47% की तेजी के साथ 733.50 रुपए पर बंद हुआ है। अगर यह ऑफर फॉर सेल (OFS) पूरी तरह सब्सक्राइब हो जाता है तो सरकार अतिरिक्त 2,00,00,000 इक्विटी शेयर जारी कर सकती है

HDFC Share Price: पैसा बनाना चाहते हैं तो शेयर मार्केट में एनालिसिस कैसे करें जानिए रणनीति

HDFC Limited Share News: कैसा है इस Stock का Structure? Buy करने से मिलेगा अच्छा Profit? | जानिए क्या है स्टॉक का Target Price और Stoploss. इसी पर विस्तार से करेंगे चर्चा, देखें वीडियो.

शेयर बाजार पर इन 10 खबरों का होगा असर, जानिए कहां लगाएं पैसा और कहां बचकर रहें

Stock Market Today: Ashish Verma संग बाजार की 10 ऐसी बड़ी खबरों पर करेंगे चर्चा जिससे बाजार में देखने को मिलेगा Action, किन Stocks और खबरों से बढ़ेगी बाजार की Strength और कहां बचकर रहें. देखें वीडियो.

DLF Share Price: पैसा लगाने का सही वक्त है क्या?

DLF में जानें निवेश को लेकर क्या है Experts की राय. जानें किन Levels पर करना चाहिए आपको खरीदारी और किस Strategy के साथ इस Stock में पैसा कमाया जा सकता है | क्या है Target price, देखें वीडियो.

IRCTC Share Price: सरकार सस्ते शेयर मार्केट में एनालिसिस कैसे करें में बेच रही हिस्सेदारी

IRCTC Share Price: सरकार जिस जिस भाव पर अपनी हिस्सेदारी बेच रही है वह बुधवार 14 दिसंबर के बंद भाव से नीचे है. बुधवार 14 दिसंबर को 1.47% की तेजी के साथ 733.50 रुपए पर बंद हुआ है। अगर यह ऑफर फॉर सेल (OFS) पूरी तरह सब्सक्राइब हो जाता है तो सरकार अतिरिक्त 2,00,00,000 इक्विटी शेयर जारी कर सकती है

HDFC Share Price: पैसा बनाना चाहते हैं तो जानिए रणनीति

HDFC Limited Share News: कैसा है इस Stock का Structure? Buy करने से मिलेगा अच्छा Profit? | जानिए क्या है स्टॉक का Target Price और Stoploss. इसी पर विस्तार से करेंगे चर्चा, देखें वीडियो.

[2023]शेयर मार्केट में ट्रेडिंग और इन्वेस्टिंग क्या होता है? Trading vs Investing in Hindi

यदि आप शेयर मार्केट में ट्रेडिंग और इन्वेस्टिंग क्या होता है? जानना चाहते हैं तो यह आर्टिकल आपके लिए बहुत ही ज्यादा महत्वपूर्ण होने वाला है क्योंकि इस आर्टिकल में शेयर मार्केट में ट्रेडिंग और इन्वेस्टिंग के बारें में आसान शब्दों में बेहतर ढ़ंग से समझाया गया है. लेकिन जब तक इस आर्टिकल को पूरा नहीं पढेंगे तब तक समझना थोड़ा मुश्किल हो सकता है, इसलिए उम्मीद है की आप इस आर्टिकल को पूरा पढ़कर, अच्छे से समझने की कोशिश करेंगे.

trading aur investing kya hai aur dono me kya antar hai?

शेयर मार्केट में दिलचस्वी रखने वाले नए निवेशक हमेशा इस बात को लेकर कंफ्यूजन में रहते हैं की शेयर मार्केट में ट्रेडिंग और इन्वेस्टिंग क्या होता है. तो चलिए सबसे पहले जानते हैं की शेयर मार्केट में ट्रेडिंग और इन्वेस्टिंग क्या है?

ट्रेडिंग क्या होता है? What’s Trading in Stock Market Hindi

Table of Contents

शेयर मार्केट में ट्रेडिंग क्या है? इसे जानने से पहले हमें शेयर मार्केट क्या है? यह जानना ज़रूरी है, तो “जहाँ पर कंपनियों शेयर मार्केट में एनालिसिस कैसे करें के शेयर्स अथवा हिस्सेदारी की ख़रीद या बिक्री होती है उसे शेयर मार्केट(Share Market) या शेयर बाजार कहते हैं.”

अब बात आती है ट्रेडिंग क्या होता है? अगर आसान शब्दों में समझें की ट्रेडिंग का क्या मतलब होता है तो किसी भी वस्तु की सेवा का ख़रीद और बिक्री करके मुनाफ़ा कमाना ही ट्रेडिंग कहलाता है. यदि दूसरे शब्दों में समझें तो शेयर मार्केट में किसी भी कंपनी के शेयर्स को एक दिन से एक वर्ष तक होल्ड करके रखने की प्रक्रिया को ट्रेडिंग कहते हैं.

trading

शेयर बाजार में ट्रेडिंग शार्ट टर्म के लिए होता है इसलिए यह बहुत ही ज्यादा रिस्की होता है, लेकिन अगर आपके पास नॉलेज है और टेक्निकल एनालिसिस की समझ है तो आप मोटा मुनाफ़ा बहुत ही कम समय यानि 5 से 10 मिनट में कमा सकते हैं. ट्रेडिंग करते समय एक छोटी सी भी ग़लती आपके कैपिटल को ख़त्म कर सकती है.

ट्रेडिंग कितने प्रकार के होते हैं? Types of Trading in Stock Market Hindi

स्टॉक मार्केट(Stock Market) में ट्रेडिंग को मुख्यतः चार पार्ट में डिवाइड किया गया है.

  1. इंट्राडे ट्रेडिंग
  2. स्कैल्पिंग ट्रेडिंग
  3. स्विंग ट्रेडिंग
  4. पोजिसनल ट्रेडिंग

इंट्राडे ट्रेडिंग क्या है? What’s Intraday Trading in Hindi

इंट्राडे ट्रेडिंग क्या है? शेयर मार्केट में जब किसी स्टॉक को एक दिन के लिए ख़रीदा और बेचा जाता है तो उसे इंट्राडे ट्रेडिंग (Intraday Trading) कहा जाता है, इंट्राडे ट्रेडिंग में आपको एक ही दिन के अंदर स्टॉक को ख़रीदना और बेचना पड़ता है अगर आपने इंट्राडे ट्रेडिंग में किसी भी एक ही दिन में नहीं बेचा तो आपका ब्रोकर उसे बेच देगा फिर चाहे आपको मुनाफ़ा हुआ रहे या फिर नुकसान. केवल एक दिन में ख़रीदने और बेचने की वजह से इसे डे ट्रेडिंग भी कहा जाता है, इसमें रिस्क और मुनाफ़ा दोनों ही बहुत ही ज्यादा होता है.

Value Investing in Hindi

शेयर मार्केट में जब भी किसी अच्छी कंपनी का शेयर नीचे आता है तो बहुत से इन्वेस्टर उस शेयर को ख़रीदने की सलाह देते हैं जिसे वैल्यू इन्वेस्टिंग कहा जाता है क्योंकि अच्छी कंपनियों का शेयर आज नहीं तो कल अच्छा रिटर्न देता है.

बड़े बड़े इन्वेस्टर वैल्यू इन्वेस्टिंग में लॉन्ग टर्म के लिए निवेश करने को सजेस्ट करते है.

ग्रोथ इन्वेस्टिंग क्या है? Growth Investing in Hindi

growth investing kya hai

शेयर मार्केट में जब भी किसी कंपनी की ग्रोथ की संभावनाएं ज्यादा होती है तो उसमें इन्वेस्टर लॉन्ग टर्म के लिए निवेश करते है जिसे ग्रोथ इन्वेस्टिंग कहा जाता है. इसमें प्रायः कंपनी के फण्डामेंटल को देखकर ही निवेश किया जाता है.

शेयर मार्केट में ट्रेडिंग और इन्वेस्टिंग में क्या अंतर है? Trading vs Investing in Hindi

अगर बहुत ही सरल शब्दों में समझें तो ट्रेडिंग और इन्वेस्टिंग में मुख्य अंतर यही होता है की ट्रेडिंग में किसी भी शेयर को बहुत ही शार्ट टर्म के लिए ख़रीदा और बेचा जाता है और इन्वेस्टिंग में किसी कंपनी के शेयर को लॉन्ग टर्म के लिए ख़रीदा और बेचा जाता है. इसके अलावा भी आइये जानते है ट्रेडिंग और इन्वेस्टिंग में क्या फ़र्क होता है?

Difference between trading and investing in stock market in hindi

ट्रेडिंग इन्वेस्टिंग
शेयर मार्केट में ट्रेडिंग कम समय के लिए होता है जैसे- कुछ मिनट, कुछ घंटे, एक दिन, कुछ हफ़्तों या फिर एक वर्ष तकशेयर मार्केट में इन्वेस्टिंग लॉन्ग टर्म के लिए होता है जैसे- एक वर्ष से कई सालों तक
शेयर मार्केट के किसी भी स्टॉक में ट्रैड करने के लिए स्टॉक बहुत ही कम पैसों में मिल जाता है.इन्वेस्टिंग में किसी शेयर्स को पूरा ख़रीदना पड़ता है क्योंकि वह लंबे समय तक होल्ड पर होता है.
ट्रेडिंग में किसी भी स्टॉक का टेक्निकल एनालिसिस करना होता है जबकिइन्वेस्टिंग में किसी भी स्टॉक का फंडामेंटल एनालिसिस करना पड़ता है.
ट्रेडिंग में ट्रेडर बहुत ही कम समय में बहुत ही ज्यादा पैसा कमाते है.इन्वेस्टिंग में इन्वेस्टर को ज्यादा रिटर्न पाने के लिए लंबे समय तक शेयर को होल्ड करके रखना पड़ता है.
इसमें जितना कम समय में अच्छा मुनाफ़ा होता है उतने ही कम समय में पैसा भी डूब जाता है. यानी रिस्क ज्यादा होता है.इसमें इन्वेस्टर लॉन्ग टर्म के लिए किसी भी स्टॉक को होल्ड करके रखता है इसलिए पैसे डूबने का रिस्क बहुत ही कम हो जाता है.
ट्रेडिंग में कम समय के अन्दर किसी भी स्टॉक को ख़रीदने और बेचने वालों को ट्रेडर कहा जाता है.इन्वेस्टिंग में लंबे समय तक किसी भी स्टॉक को होल्ड रखने वालों को इन्वेस्टर कहा जाता है.

चेतावनी- फाइनेंसियल संगम किसी भी स्टॉक में निवेश करने की सलाह नहीं देता. शेयर बाजार जोख़िम भरा निवेश है इसलिए किसी भी कंपनी के शेयर में निवेश करने से पहले ख़ुद से रिसर्च करें या अपने वित्तीय सलाहकार से सलाह जरूर लें.

तो दोस्तों आशा करते हैं की शेयर मार्केट में ट्रेडिंग और इन्वेस्टिंग क्या है और शेयर मार्केट में ट्रेडिंग और इन्वेस्टिंग में क्या अंतर क्या होता है पसंद आया होगा, ऐसे ही अधिक जानकारियों के लिए फाइनेंसियल संगम पर आते रहें और ट्विटर पर फॉलो ज़रूर करें.

बिज़नेस, फाइनेंस, शेयर मार्केट, क्रिप्टोकरेंसी और टेक्नोलॉजी से संबंधित न्यूज़ और इनफार्मेशन साइट

शेयर मार्केट में एनालिसिस कैसे करें

भारतीय स्टॉक मार्किट का एक कम्पलीट कोर्स cover

भारतीय स्टॉक मार्किट का एक कम्पलीट कोर्स

star star star star star_half 5.0 (332 ratings)

Instructor: Kundan Kishore

Enrolled Learners: 31107

Validity Period: Lifetime

₹990 including 18% GST

  • Available in Hindi & English
  • 100+ video lectures.
  • 50+ hours of video content.
  • Live doubt-clearing sessions.
  • Tests, Quizzes and case studies.
  • Research report writing with certification.

COURSE OBJECTIVE -

Traditional logo ne Indian share market ko ek rahsay bana diya and usse solve karne k liye unhone mehnge course launch kiya hue hai, yhi ek aur rahsay hai.

Indian log bahut years se share market mn paisa gawa rahe hai kyonki unsse ye rahsay durr rakha gaya hai. Humme suru se galat cheezein sekhai jaa rhi hai and galat practices karwai jaa rhi hai.

Ye ek Complete share market course hai jaha par share market k saare topics cover kiye gaye hai wo bhi affordable price par.

Abhi Tak 60,000 see jyada logo ne iss course k english version pe enroll kiya hai.

एक अच्छा investore कैसे बने

शेयर मार्केट निवेसिको के लिए जोखिम के साथ राहत भी है

Be a good investor : Hello, दोस्तों 😊आज हम जानेंगे की एक अच्छा investor कैसे बने | दोस्तों मैं आपको एक बात बता दू किसी काम में expart होने के लिए आपको उस चीज के बारे में पूरी जान कारी लेनी होगी | और आपको रेगुलर होना पड़ेगा |

अगर आप एक expart invester बनने में रूचि रखते है तो सबसे पहले आपको उससे जुड़ी बेसिक जानकारी रखनी होगी | दोस्तों इसके लिए हम जानते है investment के कुछ रूल |

स्टॉक मार्किट कैसे काम करता है|

NSE और BSE क्या है? और इनके क्या काम है

शेयर मार्केट में पैसे कैसे इन्वेस्ट करें पता करे

SIP Investment vs Lump Sum

निफ्टी और सेंसेक्स क्या है और ये कैसे काम करता है पूरी जानकारी रखे

किसी भी स्टॉक मार्किट का Fundamental Analysis कैसे करे

किसी भी स्टॉक मार्किट का Technical Analysis कैसे करे

1.दोस्तों शेयर या स्टॉक मार्किट डिजिटल रूप है इलेक्ट्रॉनिक device द्वारा काम किया जाता है | इसमें हम किसी कंपनी के शेयर खरीदते है | BSE और NSE में जो Company लिस्टेड रहती है उसके Share किसी ब्रोकर के माध्यम से ख़रीदे व बेचे जाते है |

दोस्तों मानले अगर आपने किसी कंपनी का शेयर ले रखा है और कंपनी में किसी तरह की प्रॉब्लम आ गई तो और उसका शेयर गिर गया तो उस कंपनी के शेयर खरीदने वाले को नुकसान का सामना करना परता है |

इसमें कुछ अच्छी खबर भी होती है कुछ लोग इसके शेयर सस्ते में खरीद सकते है |और फिर कंपनी की प्रोब्लेम सही होने पे उस कंपनी के शेयर तेजी से उप्पर इनक्रीस होते है |

2. दोस्तों आइये जानते है शेयर मार्किट में पैसा कैसे लगाना है सबसे पहले तो दोस्तो आप किसी company का शेयर खरीदने वा बेचने की जल्दबाजी बिलकुल भी न करे ।

Ad 10

दोस्तो market में अनुशासन बहुत जरूरी है कई investor stock market में उतार चढाव के कारण अपनी कमाई डूबा देते है

Ad 7

दोस्तों आप शेयर मार्केट के शेयर के प्रति अपना नजरिया नियंत्रित रखे आप हाई return की उम्मीद बिलकुल भी न रखे। इससे शेयर का रेट कम हो जाए तो आपको दुख न हो ।

दोस्तों आप सरप्लस फंड ही उपयोग में लाए अर्थात् सारे खर्चों के बाद बचा हुआ धन ही share market में लगाए।जिससे अच्छा return मिलने पे उसी पैसे को उसे पैसे को आप फिर से अपयोग कर सके।

दोस्तो अब आइए जानते है । SIP V/S LUMP SUM दोस्तो ये सब तरीके होते है की आप कौनसे तरीके से पैसा लगाए जिससे आपका पैसा सुरक्षित रहे । जैसे की mutual found में पैसा लगाना आसान हैं लेकिन किस तरीके से लगाए।

आइए हम जानते है । SIP systematic investment plan हैं जो की एक प्लानिंग के तहत् mutual found में invest करने का तरीका बताता है । और वही LUMP SUM तरीके से आप तभी invest करे जब आपके पास लगाने के लिए बहुत पैसा हो । और SIP तब अपनाए जब आप एकदम sure हो कि आप हर महीने fixed amount invest कर सकते हो |

3.जब निष्पक्षत रूप से स्टॉक की बात होती है तो दो मुख्य स्टॉक एक्सचेंज याद आते है | BSE – Bombay Stock Exchange जब की दूसरा है NSB – National stock Exchange ये भारत के सबसे बढे और एशिया ,जापान ,चीन के बाद सबसे बड़े stock Exchange है।

NSE 1992 में शुरु हुआ यह stock market के मामले में भारत का सबसे बड़ा stock exchange है इससे पूरी तरह से कागज पे आधारित stock trading से राहत मिली ।

यह benchmark index bhi होता है जिसे Nifty भी कहा जाता है। इसमें 50 अधिक कारोबार वाली company listed होती है। इसे nfty 50 भी कहा जाता है।

इन सबके अलावा BSE जो की 1875 मे the native share और ब्रॉकर एसोसिएट से शुरु किया गया था। इसका भी अपना benchmark index होता है इसे सेंसेक्स भी कहा जाता है जो की electronic treding में बदल गया।

मूलतः इसमें ओसत से उप्पर कारोबार करने वाली 30 company को लिस्ट किया गया है।

Be a good investor : दोस्तों बस मैं इतना कहना चाहूंगा कि stock में invest करने से पहले अच्छी तरह से जानकारी ले ले।

रेटिंग: 4.17
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 230